Delhi MCD Election 2022 Date : EC ने किया तारीखों का ऐलान, 4 दिसंबर को होगी वोटिंग, गुजरात से पहले दिल्ली में होगा फैसला

(एन एल एन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : दिल्ली में नगर निगम के चुनाव के लिए 4 दिसंबर को वोटिंग होगी और 7 दिसंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे । दिल्ली में एमसीडी चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है, दिल्ली चुनाव आयुक्त विजय देव ने कहा है । 250 वार्ड में होंगे MCD के चुनाव इसके साथ ही दिल्ली चुनाव आयुक्त विजय देव ने कहा है कि 68 विधानसभा वाले क्षेत्र में एमसीडी के 250 वार्ड में चुनाव होंगे चुनाव के लिए नोटिफिकेशन 7 नवंबर को जारी होगा। नामांकन की आखिरी तारीख 14 नवंबर है। वहीं 16 नवंबर को नामांकन की जांच होगी। बता दें कि 19 नवंबर तक प्रत्याशी अपना नाम वापस ले सकते हैं। दिल्ली का सेमीफाइनल कहीं जाने वाले एमसीडी चुनाव के लिए वोटिंग 4 दिसंबर को होनी है। 7 दिसंबर को नतीजे घोषित होंगे।
चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ आचार संहिता लागू दिल्ली चुनाव आयुक्त विजय देव ने कहा है कि तारीखों के ऐलान के साथ ही आचार संहिता को लागू कर दिया गया है। लाउडस्पीकर पर राज 10:00 बजे रात से सुबह 6:00 बजे तक प्रतिबंध रहेगा। 68 स्थानों पर नामांकन होंगे। चुनाव में प्रत्याशियों के लिए खर्च की सीमा पहले 5.57 लाख 35 से बढ़ाकर 8 लाख रुपए कर दिया गया है। विजय देव ने आगे कहा है कि नगर निगम चुनाव को निष्पक्ष और पारदर्शी करना उनकी प्राथमिकता है और इसको लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है।
चुनाव आयोग ने जारी की वार्डों की लिस्ट जानकारी के लिए आपको बता दें कि एकीकृत होने के बाद दिल्ली नगर निगम के 250 वार्डो पर चुनाव होगा। इससे पहले दिल्ली नगर निगम तीन भागों में विभाजित था और कुल 272 वार्ड थे। ताजा परिसीमन में वार्ड की संख्या घटाकर 272 से 250 कर दी गई है। चुनाव आयोग ने पिछले 6 महीने में 250 वार्डों की लिस्ट जारी कर दी थी। तीनों नगर निगम के मर्जर के बाद पहला चुनाव केंद्र सरकार द्वारा एमसीडी वार्डों के ‘परिसीमन’ के बाद एमसीडी में कुल वार्डों की संख्या 250 हो गई है, जिनमें से 42 को आरक्षित करने का निर्णय लिया गया है। गौरतलब है कि दिल्ली में तीनों नगर निगमों के मर्जर के बाद यह पहला चुनाव होगा।
चुनाव में आम आदमी की बीजेपी को कड़ी टक्कर हालांकि इस बाद आम आदमी पार्टी ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। दिल्ली में सरकार होने के साथ-साथ वह दिल्ली नगर निगम भी जीतना चाहती है, जिसके लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया समेत कई नेता जोर-शोर से चुनाव की तैयारियों में लगे हुए हैं।
दिल्ली MCD में 15 साल से बीजेपी का शासन जानकारी के लिए आपको बता दें कि पिछले 15 सालों ने दिल्ली नगर निगम में भारतीय जनता पार्टी का शासन है। इस दौरान दूसरी राजनीतिक पार्टी दिल्ली एमसीडी में अपने पैर जमाने में कामयाब नहीं हो सकी है। बता दें कि 2017 में बीजेपी ने किसी भी सिटिंग पार्षद को टिकट ना देकर एक बड़ा दांव चला था, जिस कारण एंटी इनकम्बेंसी का कोई नुकसान नहीं झेलना पड़ा था और उसे एक बड़ी जीत हासिल हुई थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.