Britain PM : पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन फिर से पीएम पद के लिए पेश कर सकते हैं दावेदारी

(एन एल एन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : नई दिल्ली :ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद से लिज ट्रस के इस्तीफे के बाद नए पीएम की दौड़ दिलचस्प हो गई है.ऋषि सुनक और बोरिस जॉनसन में से किसी ने भी अभी तक पार्टी का नेता बनने के लिये चुनाव लड़ने की औपचारिक घोषणा नहीं की है. छुट्टी बिताने के बाद जॉनसन शनिवार को लंदन वापस लौट आए हैं। वह प्रधानमंत्री की दावेदारी पेश कर सकते हैं। ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की कैबिनेट में गृह मंत्री के रूप में कार्य कर चुकीं प्रीति पटेल ने लिज ट्रस की जगह अपने पूर्व बॉस को दोबारा प्रधानमंत्री बनाये जाने का समर्थन किया है।

ब्रिटेन में आगामी शुक्रवार को नए प्रधानमंत्री पद के लिए चुनाव हो सकता है। नए प्रधानमंत्री के पद के लिए सत्ताधारी कंजर्वेटिव पार्टी यानी टोरी सांसदों की पहली पसंद भारतीय मूल के ऋषि सुनक माने जा रहे हैं। हालांकि, इस बीच पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अचानक इस रेस में सामने आकर मुकाबले को और रोचक बना दिया है।ऋषि सुनक के समर्थकों ने शनिवार को दावा किया कि भारतीय मूल के पूर्व चांसलर ने देश का प्रधानमंत्री बनने की दौड़ में उम्मीदवारों की सूची में शामिल होने के लिये 100 सांसदों का समर्थन हासिल कर लिया है. सुनक देश के प्रधानमंत्री और कंजरवेटिव पार्टी के नेता के रूप में लिज ट्रस की जगह लेने की दौड़ में हैं।

सियासी उथल-पुथल के बीच बोरिस जॉनसन कंजर्वेटिव सांसदों के सामने एक बड़ा दावा कर रहे हैं कि केवल वो ही पार्टी को दिसंबर 2024 में होने वाले चुनावों में हार का सामना करने से बचा सकते हैं। विपक्षी दल सत्तारूढ़ दल की लोकप्रियता के नुकसान का हवाला देते हुए मध्यावधि चुनाव की मांग कर रहे हैं, जिसके पास संसद में प्रचंड बहुमत है। भारतीय मूल की सांसद पटेल पिछली बार प्रधानमंत्री पद के लिए कंजर्वेटिव पार्टी की नेता लिज ट्रस और ऋषि सुनक में जारी प्रतिद्वंद्विता के बीच अपनी पसंद जाहिर नहीं करते हुए मौन धारण कर लिया था ।

नीतियों से रुख पलट लेने और वित्त बाजार में गिरावट के कारण महज 45 दिनों में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देने वालीं लिज ट्रस की जगह लेने के लिहाज से सबसे आगे चल रहे भारतीय मूल के ऋषि सुनक को जॉनसन से चुनौती मिल सकती है. कई घोटालों और बड़ी संख्या में अपने मंत्रियों के इस्तीफे के बाद खुद जॉनसन ने भी छह हफ्ते पहले प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन कंजर्वेटिव पार्टी में उनकी लोकप्रियता बरकरार है.शुरुआत में यह पांचतरफा लड़ाई थी, जिसमें रक्षा मंत्री बेन वालेस और वित्त मंत्री जेरेमी हंट भी शामिल थे। बाद में दोनों पीछे हट गए। बेन वालेस जॉनसन का समर्थन कर सकते हैं।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.