एअर इंडिया अमेरिका की उड़ानों में करेगा कटौती, 5g मोबाईल सेवाओं का चालू होना बनेगा कारण ।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): एअर इंडिया के अनुसार अमेरिका में 19 जनवरी से आने वाली 5जी मोबाईल के सेवाओं के चलते उड़ान की सेवाओं में बाधा आएगी।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): एअर इंडिया के अनुसार अमेरिका में 19 जनवरी से आने वाली 5जी मोबाईल के सेवाओं के चलते उड़ान की सेवाओं में बाधा आएगी। अमेरिकी उड्डयन नियामक फैडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) ने कहा था कि 5जी के कारण विमान के रेडियो अल्टीमीटर इंजन और ब्रेक सिस्टम में बाधा उत्पन्न हो सकती है, जिससे रनवे पर विमान के लैंड करने में दिक्कत आ सकती है।
अमेरिकी विमानन कंपनियों ने एफएए को सोमवार को पत्र लिखकर कहा था, 5जी की तैनाती से विमानन क्षेत्र में बड़ा संकट खड़ा हो सकता है। इन कंपनियों में यूनाइटेड एयरलाइंस, अमेरिकन एयरलाइंस, डेल्टा एयरलाइंस शामिल हैं। भारत और अमेरिका के बीच एअर इंडिया के अलावा दो अन्य कंपनी यूनाइटेड एयरलाइंस और अमेरिकन एयरलाइंस उड़ान सेवा देती हैं।
इन विमानन कंपनियों ने पत्र में कहा है, हवाईअड्डे के रनवे के दो मील के दायरे को छोड़ कर पूरे अमेरिका में कहीं भी 5जी इंटरनेट सेवा बहाल करें। उधर, एअर इंडिया ने मंगलवार को ट्वीट किया, अमेरिका में 5जी संचार सेवा की तैनाती को लेकर भारत से अमेरिका में हमारी सेवा में 19 जनवरी से कटौती या बदलाव करनी पड़ सकता है। इस संबंध में ताजा जानकारी से जल्द ही अवगत कराया जाएगा।
वरिष्ठ नौकरशाह विक्रम देव दत्त को एअर इंडिया लिमिटेड का नया अध्यक्ष सह प्रबंधन निदेशक (सीएमडी) नियुक्त किया गया है। उनके साथ केंद्र सरकार में कई अधिकारियों का मंगलवार को तबादला किया गया है। एजीएमयूटी कैडर के 1993 बैच के अधिकारी दत्त अभी दिल्ली सरकार में पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव हैं। एअर इंडिया को भारत सरकार टाटा संस को बेच चुकी है। फिलहाल अमेरिका में 5g सेवाओं के चलते होने वाली परेशानी का क्या हल होगा इस पर अभी पूरी दुनिया की नजर है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.