मध्यप्रदेश के पांच जिलों में आज से मिलेगी कर्फ्यू में राहत ।

झाबुआ, आलीराजपुर, खंडवा, बुरहानपुर और भिंड में कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है। इसे देखते हुए जिला आपदा प्रबंध समितियों ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में कुछ गतिविधियों को प्रतिबंध मुक्त करने का निर्णय लिया है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): कोरोनया की वजह से मध्यप्रदेश में भी हालात काफी बिगड़ गए थे। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण दर पांच फीसद से कम होने और संक्रमण की कड़ी टूटने के कारण प्रदेश में पांच जिलों से कोरोना कर्फ्यू में राहत देने की शुरुआत हो गई। झाबुआ, आलीराजपुर, खंडवा, बुरहानपुर और भिंड जिले में सोमवार से एक सप्ताह के लिए कुछ प्रतिबंध हटाए गए हैं।
इसके परिणाम देखने के बाद एक जून से अन्य जिलों में भी कुछ छूट दी जाएगी। इन जिलों में भी फिलहाल बाजार नहीं खुलेंगे। एकल, कॉलोनी या आवासीय परिसरों की दुकानें खोलने की अनुमति रहेगी। कृषि सेवा से जुड़ी सभी दुकानों पर से प्रतिबंध हटा लिया गया है।
झाबुआ, आलीराजपुर, खंडवा, बुरहानपुर और भिंड में कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है। इसे देखते हुए जिला आपदा प्रबंध समितियों ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में कुछ गतिविधियों को प्रतिबंध मुक्त करने का निर्णय लिया है। इसमें फल, सब्जी, दूध, किराना की आपूर्ति होम डिलीवरी के माध्यम से हो सकेगी।
सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान शनिवार और रविवार को पूरी तरह बंद रहेंगे। रात दस बजे से सुबह छह बजे तक आवागमन पूर्व की तरह प्रतिबंधित ही रहेगा।
मध्य प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या लगातार कम होते हुए रविवार को 57 हजार पर आ गई है। 10 अप्रैल को सक्रिय मरीजों की संख्या 1,11,366 पर पहुंच गई थी। उस वक्त हालत यह थी कि मरीजों को अस्पतालों में बिस्तर नहीं मिल पा रहे थे। मेडिकल ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत थी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा रविवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार शनिवार को प्रदेश में 79,083 सैंपल की जांच में 3,375 नए मरीज मिले हैं। इस तरह संक्रमण दर 4.26 फीसद रही। राहत की बात है कि प्रदेश में कोरोना की संक्रमण दर हर दिन करीब एक फीसद कम होते हुए इस स्तर पर पहुंची है। विभिन्न जिलों में कुल 75 मरीजों की मौत कोरोना से दर्ज की गई। 23 जिलों में एक भी मरीज की मौत नहीं हुई। फिलहाल कोविड के संक्रमण को रोकने के उपाय जारी हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.