SpaceX की बड़ी उपलब्धि : एक साल में तीसरी बार इंटरनैशनल स्पेस स्टेशन भेजे चार ऐस्ट्रोनॉट ।

यह पहली बार है जब SpaceX ने नासा के लिए अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने के वास्ते किसी यान और रॉकेट का फिर से प्रयोग किया है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): एलोन मस्क की कंपनी SpaceX लगातार नई उपलब्धियों को छू रही है। SpaceX ने शुक्रवार को चार अंतरिक्ष यात्रियों को एक बार प्रयुक्त हो चुके रॉकेट और यान को नए सिरे से बनाकर कक्षा में भेजा। एलन मस्क की तेजी से बढ़ती इस कंपनी ने एक साल के भीतर तीसरी बार मानवयुक्त अंतरिक्षयान को अंतरिक्ष में भेजा है। अमेरिका, जापान और फ्रांस के ये अंतरिक्ष यात्री शनिवार सुबह अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र पहुंच जाएंगे। ये उसी ड्रैगन यान में 23 घंटे तक सफर करेंगे जिसका इस्तेमाल SpaceX ने पहले मानवयुक्त यान के तौर पर पिछली मई में किया था।
यह पहली बार है जब SpaceX ने नासा के लिए अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने के वास्ते किसी यान और रॉकेट का फिर से प्रयोग किया है। रॉकेट का इस्तेमाल पिछले नवंबर में कंपनी की दूसरी मानवयुक्त अंतरिक्ष उड़ान के लिए किया गया था।
इस चलन को अपनाते हुए, अंतरिक्षयान के कमांडर शाने किमब्रोग और उनके साथी यात्रियों ने एक हफ्ते पहले ही रॉकेट से निकलने वाले धुएं से अपने नाम के शुरुआती अक्षर लिखकर नयी परंपरा शुरू करने की उम्मीद जताई थी।
प्रक्षेपण के बाद मस्क ने कहा, ‘यदि आपके पास त्वरित एवं पूर्ण पुन: प्रयोग क्षमता है तो यह दूसरे लोक में गमन का मार्ग है। वही हम करने की कोशिश कर रहे हैं, और नासा के सहयोग करने से चीजें काफी बदल जाती हैं।’
नासा की अंतरिक्ष यात्री मेगन मैकआर्थर के लिए यह एक तरह से पूर्व में हो चुके अनुभव की तरह है। उन्हें उसी सीट पर बिठाया गया था जिस पर उनके पति बॉब बेहनकेन SpaceX की पहली मानवयुक्त उड़ान के दौरान बैठ थे।
इसमें जापान के अकिहिको होशिदे और फ्रांस के थॉमस पेसक्वेट भी सफर कर रहे हैं जो किसी व्यावसायिक अंतरिक्षयान में भेजे जाने वाले पहले यूरोपीय व्यक्ति हैं। SpaceX की अंतरिक्ष के क्षेत्र की उपलब्धियां अंतरिक्ष विज्ञान के लिए भी बड़ी उपलबधियां हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.