बढ़ रहे कोरोना के बीच राहत की खबर- अगले 15 दिनों में बढ़ेगा रेमडेसिवर का बढ़ेगा उत्पादन ।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): कोरोना की दूसरी लहर ने फिर सामान्य जनजीवन को बुरी तरह से प्रभावित कर दिया है। वहीं इसके टीके और दवा की पर्याप्त सप्लाई भी बहस का मुद्दा बनी हुई है। इस बीच केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि अगले 15 दिनों में एंटी वायरल दवा रेमडेसिवर का उत्पादन दोगुना कर दिया जाएगा। बता दें कि एंटी वायरल दवा रेमडेसिवर को लेकर कई राज्यों से कमी की खबर आ रही है।
मांडविया ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो संदेश में कहा “भारत सरकार देश में रेमेडिसविर इंजेक्शन के उत्पादन को बढ़ाने और कम कीमत पर उपलब्ध कराने के सभी प्रयास कर रही है। वर्तमान में, रेमेडिसवीर की प्रतिदिन 150,000 शीशियों का उत्पादन प्रति दिन किया जा रहा है और, अगले 15 दिनों में, उत्पादन को दोगुना करके 300,000 शीशियां प्रत्येक दिन किया जाएगा ”।
उन्होंने कहा कि रेमडेसिवर बनाने वाले प्लांट की संख्या फिलहाल 20 है और अधिक प्लांट के लिए मंजूरी मिल गई है। हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि अगले कुछ दिनों में दवा का अधिक से अधिक उत्पादन हो।
इधर, देश में रोजाना कोविड-19 के रिकॉर्ड नए मामले सामने आने के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को एक उच्च स्तरीय बैठक में वेंटिलेटर्स, ऑक्सीजन और दवाइयों की उपलब्धता की समीक्षा की और टीकों का उत्पादन बढ़ाने के लिए अधिकारियों को सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्रों में मौजूद सभी क्षमताओं का इस्तेमाल करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि भारत ने पिछले साल एकजुट होकर कोविड-19 महामारी को परास्त कर दिया था और इस बार भी वह हरा सकता है लेकिन इसके लिए उन्हीं सिद्धांतों को तेजी से और आपसी सहयोग के साथ अपनाना होगा। प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की जिसमें केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे।
प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से जारी एक बयान में कहा गया कि इस बैठक में दवाइयां, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर्स और टीकाकरण के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा हुई। बैठक में प्रधानमंत्री ने जांच, संपर्क का पता लगाने और फिर उपचार की दिशा में आगे बढ़ने पर जोर दिया तथा कहा कि इनका कोई विकल्प नहीं है। बयान के मुताबिक मोदी ने कहा, ”जल्दी जांच कराना और फिर संपर्क का पता लगाना इससे होने वाली मृत्यु में कमी लाने की कुंजी है। उन्होंने लोगों की चिंताओं के प्रति स्थानीय प्रशासन को संवेदनशीलता के साथ काम करने और आगे बढ़कर सक्रियता दिखाने पर जोर दिया। फिलहाल पूरी दुनिया कोरोना के साथ जंग में पूरी ताकत से लगी हुई है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.