गाजियाबाद प्रशासन का प्रदर्शनकारियों को यूपी गेट से हटने का आदेश, छावनी में तब्दील धरना स्थल

जिले के एक अधिकारी ने बताया कि ‘गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने दिल्ली सीमा पर यूपी गेट पर डेरा डाले प्रदर्शनकारियों से बात चीत किया और उन्हें रात तक प्रदर्शनस्थल खाली करने को कहा है। ऐसा नहीं करने पर प्रशासन उन्हें हटा देगा।’पुलिस के साथ बैठक के बाद भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि ‘हम धरना तो समाप्त कर देंगे। धरना स्थल (गाज़ीपुर बॉर्डर) पर पानी, बिजली अन्य सुविधाएं बंद कर दिए गए हैं। अब हम वहां क्या करेंगे? उठ ही जाएंगे।’ यूपी गेट पर प्रदर्शन कर रहे किसान नेता राकेश टिकैत ने भड़काऊ भाषण देते हुए कहा है कि ‘कोई गिरफ्तार नहीं होगा। यहां गोली चलेगी। मैं यहां से धरना खत्म हुआ तो मैं यहीं फांसी लगाऊंगा।’ वहीं दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा को लेकर राकेश टिकैत को नोटिस जारी करते हुए पूछा कि 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली को लेकर पुलिस के साथ हुए समझौते को तोड़ने के लिए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई क्यों न की जाए। इसके अलावा उनके टेंट पर नोटिस भी चस्पा किया है। बता दें कि पुलिस ने प्राथमिकी में राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव और मेधा पाटकर समेत 37 किसान नेताओं के नाम दर्ज किए हैं। इस प्राथमिकी में हत्या की कोशिश, दंगा और आपराधिक साजिश के आरोप लगाए गए हैं। गौरतलब है कि 26 जनवरी को किसानों ने ट्रैक्टर परेड निकाला था। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जगह-जगह पर हिंसक प्रदर्शन किया था। उनके इस प्रदर्शन में 300 से अधिक पुलिस कर्मी घायल हो गए हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.