भाषणों से दिल्ली में दंगा भड़काने के आरोप में उमर खालिद की हो सकती है गिरफ्तारी।

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने उमर खालिद पर दिल्ली हिंसा की साजिश का आरोप लगाते हुए 6 मार्च को एफआईआर दर्ज की थी।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : ओम तिवारी : दंगों के लिए उकसाने और उन्हें भड़काने वालों पर नागरिकता संशोधन कानून यानी सीएए से गाज गिरेगी। देश की राजधानी दिल्ली में फरवरी के महीने में हिंसा भड़की थी। दिल्ली हिंसा की साजिश में उमर खालिद  के रोल की जांच दिल्ली पुलिस  कर रही है और उससे पूछताछ की जा सकती है। आपको याद होगा कैसे उमर खालिद ने ट्रंप के भारत दौरे से पहले अपने भाषण के जरिए भड़काया था। अब उमर खालिद पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने उमर खालिद पर दिल्ली हिंसा की साजिश का आरोप लगाते हुए 6 मार्च को एफआईआर दर्ज की थी। इस एफआईआर के तहत स्पेशल सेल जांच कर रही है। आपको याद होगा अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के भारत दौरे से ठीक पहले उमर खालिद ने किस तरह से लोगों को उकसाया था।
जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद पर क्या आरोप
– 23, 24, 25 फरवरी को नॉर्थ -ईस्ट दिल्ली में दंगे भड़काने का आरोप
– भीड़ के सामने भड़काऊ भाषण देने का आरोप
– एंटी सीएए प्रदर्शन में भीड़ जमा करने का आरोप
बता दें कि दिल्ली दंगों के आरोपी आम आदमी पार्टी के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन पर भी UAPA एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। दिल्ली में चांद बाग हिंसा और आईबी अफसर अंकित हत्याकांड में ताहिर हुसैन आरोपी है। ताहिर हुसैन पर दंगों के दौरान हिंसा भड़काने के गंभीर आरोप हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.