कल्कि की दूसरी किताब आई – ‘Light In Darkness’ का हुआ ऑनलाइन विमोचन।

आज जब लगभग आधी दुनिया ही महामारी के कारण प्रभावी लॉकडाउन से घरों के अन्दर कैद होकर रह गई है, हमें भगवान कल्कि की दूसरी किताब प्राप्त हुई है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : आज दुनिया में ईस्टर सप्ताह के त्यौहार को मनाया जा रहा है, लेकिन इसके बीच कोविड-19 महामारी के कारण चारों ओर भय और घबराहट का माहौल भी है। आज जब लगभग आधी दुनिया ही महामारी के कारण प्रभावी लॉकडाउन से घरों के अन्दर कैद होकर रह गई है, हमें भगवान कल्कि की दूसरी किताब प्राप्त हुई है। कल्कि की इस दूसरी किताब का ऑनलाइन विमोचन www.kalkisays.com में हुआ है।
कुछ समय पहले ही www.kalkisays.com में “Human, Kaliyuga & Virology” नाम से इस किताब का पहला भाग अंग्रेजी भाषा में विमोचित हुआ था। इस पहले भाग की किताब में भगवान कल्कि द्वारा 108 सारगर्भित सन्देश दिए गए थे, जिनमें कुछ ऐसी ख़ास भ्रांतिपूर्ण विचारधाराओं को चिन्हित किया गया था जो मनुष्यता के मस्तिष्क में वायरस की ही तरह कब्जा जमाए बैठी हुई हैं।
कल्कि के सन्देश की किताब के दूसरे भाग में वो इन भ्रांतियों से निकलने के उपायों के बारे में बात कर रहे हैं। इस किताब का शीर्षक “Light In Darkness”  है। यह किताब अभी नि:शुल्क दी जा रही है। किताब के इस संस्करण में भी 108 सारगर्भित सन्देश दिए गए हैं जिनमें भगवान कल्कि धर्म (Dharm), मजहब (Religion), विज्ञान (Science), राजनीति (Politics), विचारधाराओं (Ideologies) और दुनिया में हो रहे संघर्षों(Conflicts) के बारे में बात कर रहे हैं।
इस दूसरी किताब के बारे में लोगों के विचार पूछे जाने पर पता चला कि ज्यादातर लोग कल्कि दवारा व्यक्त किए गए विचारों से सहमत हैं। वो सभी संदेहवादी लोग जिन्होंने किताब के पहले संस्करण को गंभीरता से नहीं लिया था अब दूसरे संस्करण को पढ़कर बता रहे हैं कि कल्कि के विचारों को अब वो सपष्टता से समझ पाए हैं और वो उनके विचारों से सहमत हुए हैं।
शायद यह उस मौन परिवर्तन की शुरुआत है जो दुनिया को आने वाले समय में पूरी तरह से बदल कर रख देगा। यह किताब कुछ लोगों की बंद आँखों को खोलेगी और कुछ लोग इसकी आलोचना करना शुरू कर देंगे।
पर एक बात तो साफ़ है कि आज दुनिया में फैले इस कोरोना की महामारी के समय में जब लोग घरों में बैठे हुए हैं या दुनिया की धीमी पड़ गई रफ्तार के शिकार हुए हैं तब यह किताब उनको दुनिया और जीवन के विषय में एक नया दृष्टिकोण देती है।
कल्कि के कथनों की दूसरी किताब अंग्रेजी भाषा में “Light In Darkness”  नाम के शीर्षक से ऑनलाइन प्रकाशित हुई है, इसे नि:शुल्क www.kalkisays.com से डाउनलोड किया जा सकता है।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.