वनडे मैच में बल्लेबाजों ने खड़ा किया रनों का पहाड़, ठोके 48 छक्के और 70 चौके

50 ओवर के इस सेकंड डिवीजन मैच में दोनों टीमों के बल्लेबाजों ने 48 छक्के और 70 चौके जमाए।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): क्रिकेट की पिच पर बल्लेबाजों के मचाए धमाल के अक्सर चर्चे होते रहते हैं। कई बार कोई टीम बड़े स्कोर वाले मुकाबले को आसानी से जीत लेती है तो कुछ मैचों में जमकर चौकों और छक्कों की बरसात होती है। लेकिन ऐसे चुनिंदा मुकबाले खेले जाते हैं जिनमें यह दोनों बातें हों। ऐसा ही एक मुकाबला बांग्लादेश के घरेलू क्रिकेट में खेला गया जहां दो टीमों ने मिलकर 818 रन बनाए। 50 ओवर के इस सेकंड डिवीजन मैच में दोनों टीमों के बल्लेबाजों ने 48 छक्के और 70 चौके जमाए। यह मैच ढाका में सिटी क्लब ग्राउंड पर नॉर्थ बंगाल क्रिकेट एकेडमी और टेलैंट हंट क्रिकेट एकेडमी के बीच खेला गया। नॉर्थ बंगाल क्रिकेट एकेडमी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट के नुकसान पर 432 रन का बड़ा स्कोर बनाया। नॉर्थ बंगाल ने इस पारी में  27 छक्के मारे। लक्ष्य का पीछा करने उतरी टैलेंट हंट की टीम ने दमदार बल्लेबाजी की लेकिन वो जीत की मंजिल तक नहीं पहुंच पाई। उनसे 7 विकेट पर 386 रन बनाए और यह मैच 46 रन से गंवा दिया। उसकी ओर से इस पारी में 21 छक्के मारे गए। इस मैच के बाद क्लब क्रिकेट के आयोजक सैयद अली आसफ ने कहा, ‘यह बहुत असामान्य है। मैं ढाका के घरेलू क्रिकेट को कई सालों से जानता हूं, लेकिन मैंने ऐसा कभी नहीं देखा।’ बता दें कि बांग्लादेश के घरेलू क्रिकेट में अजीबोगरीब वाकये होते रहते हैं। यहां घरेलू मैच में कई बार आसामन्य परिणाम देखने को मिल चुके हैं और मैच फिक्सिंग के आरोप भी आम बात हैं। साल 2017 में खेले गए एक मुकाबले में तो एक ओवर में 80 रन बन गए थे। गेंदबाज ने वाइड और नो बॉल फेंककर मैच हारने के लिए एक ओवर में 92 रन दे दिए थे। आरोप था कि गेंदबाज ने जानबूझकर एक मैच हारने के लिए ऐसा किया। उसी की टीम ने बाद में अंपायर पर पक्षपात का आरोप भी लगाया। बाद में उस गेंदबाज पर दस साल का प्रतिबंध लगा दिया गया था। इसके अलावा ढाका सेकंड डिवीजन के एक मैच में लालमटिया क्लब के एक गेंदबाज ने पहले ही ओवर में 13 वाइड और तीन नो बॉल फेंक दी थीं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.