गणतंत्र दिवस 2020: राजपथ पर आज दिखेगी भारत की सैन्य ताकत व संस्कृति की झलक

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) :  देश के 71वें गणतंत्र दिवस समारोह में रविवार को राजपथ पर भारत की बढ़ती सैन्य ताकत, समृद्ध सांस्कृतिक विविधता और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का भव्य प्रदर्शन होगा। गणतंत्र दिवस के लिए सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं। राजपथ पर आसमान से भी नजर रखी जाएगी। उपग्रह भेदी हथियार ‘शक्ति’, थलसेना का युद्धक टैंक भीष्म, पैदल सेना के युद्धक वाहन और हाल ही में भारतीय वायु सेना में शामिल किए गए चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर भव्य सैन्य परेड का हिस्सा होंगे। इसके अलावा के-9 वज्र और धनुष तोपें, चलित उपग्रह टर्मिनल और आकाश मिसाइल प्रणाली मैकेनाइज्ड दस्ते का मुख्य आकर्षण होंगे। राफेल और तेजस युद्धक विमान, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, आकाश मिसाइल प्रणाली और अस्त्र मिसाइल के मॉडल प्रदर्शित किए जाएंगे। डोर्नियर विमान और सी-130 जे सुपर हरक्यूलीज विमान भी दिखाई देंगे। पांच जगुआर विमान और पांच मिग-29 विमान ‘एरोहेड’ फार्मेशन में वायुसेना के पराक्रम का प्रदर्शन करेंगे। परेड का समापन सुखोई-30 एमकेआई जेट विमानों के हवाई करतब से होगा। गणतंत्र दिवस परेड समारोह की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट के समीप स्थित राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जाकर कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। यह पहली बार होगा जब प्रधानमंत्री अमर जवान ज्योति की बजाय राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। परेड की शुरुआत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा परेड की सलामी लेने से होगी। राजपथ पर राष्ट्र की बहुमूल्य सांस्कृतिक धरोहर और आर्थिक प्रगति को दर्शाने वाली 22 झांकियों में से 16 झांकियां राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की होंगी और छह विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की होंगी। विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की छह झांकियों में ‘स्टार्ट अप इंडिया’ और ‘जल जीवन मिशन’ जैसी सरकारी योजनाओं का प्रदर्शन किया जाएगा। परेड कमांडर दिल्ली क्षेत्र के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल असित मिस्त्री के हाथों में परेड की कमान होगी। परेड में पहला दस्ता सेना की 61वीं घुड़सवार टुकड़ी का होगा। गणतंत्र के मौके पर डेढ़ घंटे के समारोह में ब्राजील के राष्ट्रपति जायेर बोलसोनारो मुख्य अतिथि होंगे। वह दो दिन से भारत की यात्रा पर आए हुए हैं। लातिन अमेरिकी देश ब्राजील के साथ भारत के मधुर संबंध हैं। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) और विश्र्वविद्यालयों के कुल 105 टॉपर गणतंत्र दिवस समारोह का नजारा प्रधानमंत्री के साथ बैठकर देखेंगे। इनमें ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट और पीएचडी के 50 छात्र, दसवीं कक्षा के 30 छात्र और बारहवीं कक्षा के 25 छात्र होंगे। इनमें उत्तर प्रदेश के 14 छात्र शामिल हैं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि परेड के समापन के बाद छात्रों को प्रशंसा पत्र प्रदान किया जाएगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.