कश्मीर में बकरीद पर माहौल सामान्य, आईबी अलर्ट पर।

कर्मचारियों को एडवांस में ही वेतन का भुगतान कर दिया गया है। प्रशासन ने श्रीनगर शहर में छह मंडियां स्थापित की हैं।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद स्थितियां सामान्य हो रही हैं। ईद के दिन माहौल काफी हद तक सामान्य नजर आ रहा है। इस मौके पर राज्य में सुरक्षा के मद्देनजर कड़े इंतजाम किए गए हैं। लोगों को कोई दिक्कत न हो इसके लिए प्रशासन ने खास इंतजाम किए हैं। ईद के मौके पर वहां भी खुशी और जश्न का महौल देखने को मिल रहा है। लोगों ने स्थानीय मस्जिदों में बकरीद की नमाज अदा की। इससे पहले रविवार को छुट्टी के बावजूद ट्रेजरी और बैंक, बाजार, खरीदारी करते लोगों ने शांति का संदेश दिया। इस दौरान ईद कश्मीरी एक-दूसरे को ईद मुबारक कहते नजर आए। ईद पर कोई दिक्कत न हो, इसलिए प्रशासन ने घरों तक जरूरी सामान पहुंचाने के लिए मोबाइल वैन लगाई हैं। कर्मचारियों को एडवांस में ही वेतन का भुगतान कर दिया गया है। प्रशासन ने श्रीनगर शहर में छह मंडियां स्थापित की हैं। इनमें ढाई लाख बकरे कुर्बानी के लिए लाए गए हैं। हर जिले में राशन डिपो बनाए गए हैं। कश्मीर संभाग में कुल 3697 सरकारी डिपो में से 3557 खुले हैं। राज्य प्रशासन के अनुसार, कश्मीर में सभी जरूरी सामान उपलब्ध है। गेंहू 65 , चावल 55 , मटन 17 , पोल्ट्री 30, केरोसिन 35 , एलपीजी 30 और डीजल व पेट्रोल 28 दिनों के लिए उपलब्ध है। कश्मीर के सभी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में पर्याप्त संख्या में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ मौजूद हैं। स्टाफ को उनके पहचान पत्रों के आधार पर कहीं भी आने-जाने की अनुमति है। प्रशासन का दावा है कि अस्पतालों में सभी दवाइयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। प्रशासन ने वादी में जगह-जगह पर 300 विशेष टेलीफोन बूथ स्थापित किए हैं, ताकि स्थानीय लोग अन्य राज्यों में अपने परिजनों से संपर्क कर सकें। देश के अन्य हिस्सों में जहां कश्मीरी ज्यादा संख्या में रह रहे हैं वहां लाइजन अधिकारी नियुक्त किए गए हैं, खासकर अलीगढ़ और दिल्ली। लाइजन अधिकारी कश्मीरी छात्रों व अन्य के लिए ईद की दावत की भी व्यवस्था करेंगे। श्रीनगर एयरपोर्ट से सभी फ्लाइट समय से उड़ रही हैं। एयर टिकट को मूवमेंट पास के तौर पर माना जा रहा है। इन व्यवस्थाओं के बीच इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) ने सोमवार को ईद के मौके पर इस्लामिक स्टेट तथा आईएसआई समर्थित आतंकी गुटों के आशंकित हमलों को लेकर अलर्ट जारी किया है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल कश्मीर में डटे हुए हैं। उन्होंने ग्राउंड मैनेजमेंट संभाली हुई है। डोभाल लोगों को यकीन दिला रहे हैं कि जो हो रहा है वह आपकी भलाई के लिए ही है। पुलिस महानिदेशक दलबाग सिंह ने कहा कि घाटी में हालात सामान्य हैं। कुछ चुनिंदा जगहों पर कर्फ्यू में ढील दी गई है। उन्होंने लोगों से अफवाहों पर विश्वास न करने को कहा। उन्होंने कहा कि कहीं भी फायरिंग की कोई घटना नहीं हुई है। सीआरपीएफ की हेल्पलाइन ‘मददगार’ ने अपना नंबर बदल दिया है। कश्मीर में टेलीफोन सेवा ठप होने के कारण नंबर बदला गया है। अब कश्मीर में मदद के लिए 9469793260 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है। पहले यह नंबर 14111 था। सीआरपीएफ ने जून 2017 में मददगार हेल्पलाइन बनाई थी। यह हेल्पलाइन नंबर चौबीस घंटे काम करता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.