जेट एयरवेज से यात्री ने मुआवजे के तौर पर मांगे 30 लाख रुपये और 100 बिजनेस क्लास टिकट

जेट एयरवेज की इस उड़ान में कॉकपिट क्रू के सदस्य केबिन एयर प्रेशर को कंट्रोल करने वाला स्विच खोलने में विफल रहे थे

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : जेट एयरवेज की मुंबई-जयपुर फ्लाइट में सवार एक यात्री ने एयरलाइन से 30 लाख रुपये का मुआवजा और 100 अपग्रेड वाउचर की मांग की है। एयरलाइन के सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। इस यात्री ने एयरलाइन पर देखभाल में कमी का आरोप लगाया है। इस यात्री को चार अन्य यात्रियों के साथ इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया था।सूत्रों ने बताया कि इसके अलावा यात्री ने उड़ान का वीडियो भी शेयर करने की धमकी दी है। जेट एयरवेज की इस उड़ान में कॉकपिट क्रू के सदस्य केबिन एयर प्रेशर को कंट्रोल करने वाला स्विच खोलने में विफल रहे थे। इस वजह से विमान में सवार करीब 30 यात्रियों के नाक और कान से खून आने लगा था।कानून के तहत अगर कोई यात्री किसी एयरलाइन से यात्रा के समय घायल होता है तो एयरलाइन को उसे मुआवजा देना होता है। सूत्र के मुताबिक, यात्री ने दावा किया है कि जेट एयरवेज ने यात्रियों का ध्यान नहीं रखा। ऐसे में उसे 30 लाख रुपये का मुआवजा और 100 अपग्रेड वाउचर दिए जाएं ताकि वह इकोनॉमी श्रेणी के टिकट पर बिजनेस श्रेणी में यात्रा कर सके।दरअसल, गुरुवार की सुबह जेट एयरवेज की मुंबई-जयपुर उड़ान को टेकऑफ के बाद मुंबई वापस उतारना पड़ा, क्योंकि टेकऑफ के दौरान क्रू केबिन प्रेशर को बरकरार रखने का स्विच दबाना भूल गया था, जिसकी वजह से 166 में से 30 यात्रियों की नाक और कान से खून बहने लगा, और कुछ को सिरदर्द की शिकायत हुई।जेट एयरवेज़ की उस उड़ान के क्रू को ड्यूटी से हटा दिया गया है, जिसमें केबिन प्रेशर बरकरार न रख पाने की वजह से यात्रियों के कान-नाक से खून बहने लगा था, और उसे टेकऑफ के बाद वापस मुंबई उतारना पड़ा था। नागरिक उड्डयन के महानिदेशालय के अनुसार, एयरक्राफ्ट एक्सिडेंट इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो ने जांच शुरू कर दी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.