शिमला: नारकंडा के हाटू माता मंदिर में फायरिंग, हरियाणा के 2 पर्यटक गिरफ्तार

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): शिमला जिले के नारकंडा के प्रसिद्ध हाटू माता मंदिर में दुर्गाष्टमी के अवसर पर पर्यटकों द्वारा फायरिंग करने का मामला सामने आया है।फायरिंग के बाद सैलानियों ने मंदिर के पुजारी को भी धमकाया। पुलिस ने पुजारी के बयान पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मंदिर कमेटी की शिकायत पर 2 सैलानियों को गिरफ्तार किया गया है।हाटू माता मंदिर कमेटी के प्रधान कंवर भूपेंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि दुर्गाष्टमी के अवसर पर दोपहर करीब 2 बजे मंदिर के मुख्य गेट के साथ लगती पहाड़ी पर से गोलियों के चलने की आवाज आई, जिसके बाद मंदिर के पुजारी ललित शर्मा ने देखा कि कुछ पर्यटक हाथों में पिस्टल और बंदूक लहरा कर हवा में फायरिंग कर रहे हैं। जब उनको रोका गया तो वे पुजारी से उलझ पड़े और धक्का-मुक्की करने लगे। पुजारी ने मंदिर से अन्य लोगों को व मंदिर कमेटी के लोगों को बुलाया तथा पर्यटकों को फायरिंग करने से रोका।उसके बाद उक्त पर्यटक वहां से भागने की फिराक में थे लेकिन उनकी गाड़ियों के आगे दूसरे वाहन खड़ा कर उनका रास्ता बंद किया गया और पुलिस थाना कुमारसैन में मामले की सूचना दी। सूचना मिलते ही कुमारसैन पुलिस थाना से एसएचओ मोहन जोशी व नारकंडा पुलिस चौकी की टीम तुरंत मौके पर पहुंचे और 8 पर्यटकों को मंदिर कमेटी की शिकायत पर पूछताछ के लिए कुमारसैन थाना लाया गया। डीएसपी रामपुर चंद्रशेखर कायथ ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि फायरिंग करने वाले पर्यटकों को मंदिर कमेटी की शिकायत पर गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कुलदीप (37) पुत्र करण सिंह, गांव गोथरा तहसील लोहारू जिला भिवानी हरियाणा और अभिषेक (27) पुत्र राजेश गांव आसलवास दुबिया तहसील व जिला भिवानी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इनके पास से पुलिस ने एक पिस्टल और 12 बोर की बंदूक बरामद की। मंदिर कमेटी के प्रधान कंवर भूपेंद्र सिंह ने डीएसपी रामपुर तथा प्रशासन से मांग की है कि हाटू माता मंदिर परिसर में अशांति और गुंडागर्दी फैलाने आए हरियाणा के पर्यटकों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए और भविष्य के लिए भी ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कड़े कदम उठाए जाएं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.