रेप के बाद बच्ची का सर काटने वाले रेपिस्ट को जनता ने लॉकअप से खींचकर मार डाला

12 फरवरी को पांच साल की बच्ची का अपहरण किया गया था। जिसके बाद बिना कपड़ों के और सिर कटी हुई डेडबॉडी मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

(एनएलएन मीडिया-न्यूज़ लाइव नाऊ) : अरुणाचल प्रदेश में बच्ची से रेप में आरोप में लॉकअप में बंद दो युवकों को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला। पुलिस के मुताबिक सोमवार को करीब एक हजार लोगों ने थाने पर हमला बोल दिया और दोनों आरोपियों को बाहर खींचकर ले गए और बुरी तरह से पीटा। फिर शव को बाजार में फेंक चले गए। 12 फरवरी को पांच साल की बच्ची का अपहरण किया गया था। जिसके बाद बिना कपड़ों के और सिर कटी हुई डेडबॉडी मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था।
पुलिस के मुताबिक 12 फरवरी को पांच साल की बच्ची को किडनैप कर लिया गया था। पांच दिन बाद चाय बागान में उसका शव मिला। बिना कपड़ों के, सिर कटा हुआ। इसके बाद पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू की। इधर बच्ची से रेप के बाद इलाके के लोग काफी गुस्से में थे। इस मामले में किसी की गिरफ्तारी भी नहीं हुई थी। जिससे क्षेत्र में तनाव बढ़ता जा रहा था। काफी पड़ताल के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। कड़ी पूछताछ के बाद एक ने किडनैपिंग और रेप की बात कबूल कर ली। गिरफ्तारी के बाद रेप के दोनों आरोपियों को लॉकअप में बंद कर दिया गया। लेकिन जब इसकी खबर इलाके के लोगों को लगी तो उन्होंने थाने पर ही हमला कर दिया। पुलिसवालों से भी मारपीट हुई और अन्त में दोनों आरोपियों को लोग बाहर खींचकर ले गए और पीटते-पीटते मार डाला। पुलिस भी कुछ नहीं कर सकी।मुख्यमंत्री पेमा खांडु ने इस घटना के जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने बच्ची से बलात्कार और हत्या की घटाना को बर्बर करार दिया। साथ ही भीड़ द्वारा आरोपियों की हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।दोनों आरोपियों की हत्या के मामले में तेजु थाने के तीन पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया है। वहीं पुलिस अधीक्षक का ट्रांसफर कर दिया गया है। अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.