इमरान खान की संसद सदस्‍यता खत्‍म, नहीं लड़ सकेंगे चुनाव, चुनाव आयोग ने अयोग्‍य घोषि‍त किया

(एन एल एन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : पाकिस्‍तान के चुनाव आयोग ने इमरान खान को अयोग्‍य घोषित कर दिया है और उनकी संसद की सदस्‍यता को भी खत्‍म कर दिया है। इमरान खान पर आरोप है कि उन्‍होंने विदेशों में मिले गिफ्ट को बेच दिया है। इस फैसले के बाद देश में हिंसा की अटकलें जताई जा रही हैं। इमरान खान के समर्थकों को रोकने के लिए पाकिस्‍तान सरकार ने अर्द्धसैनिक बलों को भी तैनात किया है। पुलिस ने कहा है कि किसी भी पीटीआई नेता को चुनाव आयोग के पास नहीं आने दिया जाएगा। इससे पहले 19 सितंबर को चुनाव आयोग ने तोशाखाना मामले में अपने फैसले को सुरक्षित रख लिया था। इस फैसले के बाद विशेषज्ञों का कहना है कि इमरान खान इसे कोर्ट में चुनौती देंगे जहां यह टिक फैसला नहीं पाएगा।
चुनाव आयोग के मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त के नेतृत्‍व में एक 5 सदस्‍यीय बेंच ने इस पूरे मामले पर सुनवाई की है और आपसी सहमति से इमरान खान को अयोग्‍य घोषित किया है। इस बीच इमरान खान की पार्टी ने कहा कि वह इस पूरे फैसले को हाई कोर्ट में चुनौती देने जा रही है। तोशाखान विवाद में इमरान पर आरोप है कि उन्‍होंने विदेशी राष्‍ट्राध्‍यक्षों से मिले करोड़ों रुपये गिफ्ट को सरकारी खजाने में जमा कराने की बजाय उसे बेच दिया।

बता दें, हाल ही में इमरान खान ने आजादी मार्च निकालने का एलान किया था। बीते सोमवार को इमरान खान ने एक प्रेसवार्ता के दौरान कहा था कि इस मार्च को अक्तूबर में ही शुरू किया जाएगा, क्योंकि उनकी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। वहीं उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर सरकार नए चुनाव की घोषणा नहीं करती है तो

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने ‘आजादी मार्च’ को लेकर अपनी पार्टी को 72 घंटे का समय दिया है। इमरान खान ने 72 घंटे के अंदर अपना कंटेनर तैयार करने को कहा है। इस कंटेनर में पार्टी ने एयर कंडीशनर, पंखे, एयर कूलर, एलईडी, शौचालय व हीटर लगाने की भी मांग की है। इसके तैयार होने के बाद पार्टी तय करेगी कि कंटेनर को लाहौर या पेशावर ले जाया जाएगा या नहीं।

उधर, जिला प्रशासन ने ‘आजादी मार्च’ का मुकाबला करने के लिए 700 से अधिक कंटेनर जब्त किए हैं. राजधानी पुलिस ने कहा कि वे लंबे मार्च के दौरान राजधानी को बंद करने के लिए लगभग 1,100 कंटेनरों का प्रबंधन करेंगे। द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, कुल में से, 525 कंटेनरों को 22 अलग-अलग सड़कों पर रखा गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.