असम में जहरीली शराब पीने से अब तक 94 की मौत !

सरकार ने मृतकों के परिजन को 2-2 लाख और अस्पताल में भर्ती लोगों को 50 हजार रु की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : असम के गोलाघाट और जोरहट जिले में गुरुवार से अब तक जहरीली शराब पीने से 94 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें 36 महिलाएं शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने शनिवार को बताया कि 300 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं। डॉक्टरों ने कई लोगों की हालत गंभीर बताई है। मामले में 12 लोगों को गिरफ्तार हुई। दो आबकारी अफसरों को निलंबित किया गया। पिछले दिनों उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में भी जहरीली शराब से 100 से ज्यादा लोगों की जान गई थी।डिप्टी कमिश्नर धीरेन हजारिका ने बताया कि 59 मौतें अकेले गोलाघाट में हुईं, जबकि जोरहट में 35 की जान गई। सरकार ने मृतकों के परिजन को 2-2 लाख और अस्पताल में भर्ती लोगों को 50 हजार रु की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है। अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ने से डिब्रूगढ़ और तेजपुर मेडिकल कॉलेज के स्टाफ को जोरहट और गोलघाट बुलाया गया है। मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने जांच के लिए चार सदस्यीय समिति बनाई है, जो तीन दिन में सरकार को रिपोर्ट सौंपेगी।भाजपा विधायक मृणाल सैकिया ने बताया कि गुरुवार को गोलाघाट में शादी समारोह के दौरान करीब 100 लोगोें ने देशी शराब पी थी, जो एक दुकान से लाई गई थी। शराब पीने के बाद कुछ लोगों की हालत तुरंत बिगड़ गई। मरने वालों में ज्यादातर चाय बागान के मजदूर हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस और अवैध शराब विक्रेताओं की मिलीभगत है। पुलिस की शह पर ही इलाके में अवैध शराब बेची जा रही है।कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जहरीली शराब पीने से हुई मौतों पर दुख जताया है। राहुल ने फेसबुक पोस्ट में कहा, ”असम के गोलाघाट में हुए इस हादसे से मुझे बेहद दुःख हुआ है। पीड़ित परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।जिनका इलाज चल रहा है वो जल्द से जल्द स्वस्थ हो, मेरी ये कामना है।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.