प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्कूल टीचर रासबिहारी मनियार का निधन ट्वीट कर जताया दुख

(एन एल एन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : पीएम मोदी के स्कूल टीचर रासबिहारी मनियार का निधन हो गया है। पीएम मोदी ने अपने शिक्षक के निधन की जानकारी साझा की है। शिक्षक के निधन पर पीएम काफी दुखी भी हैं। उन्होंने ट्वीट कर एक पोस्ट लिखी है। इसमें उन्होंने एक वीडियो भी शेयर किया है।

मोदी ने कहा, ‘अपने स्कूल शिक्षक रासबिहारी मनियार के निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दुख हुआ है। मेरे जीवन में उनका अमूल्य योगदान है। मैं जीवन के इस पड़ाव तक उनके साथ जुड़ा रहा रहा हूं और एक छात्र के रूप में मुझे जीवन भर उनका मार्गदर्शन प्राप्त करने का संतोष है।’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्कूल टीचर रासबिहारी मनियार का निधन हो गया है. इस बात की जानकारी खुद पीएम मोदी ने दी है. पीएम मोदी ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर कर उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने लिखा है वह अपने शिक्षक के निधन की खबर सुनकर बहुत दुखी हैं. पीएम ने इस पोस्ट में ये भी लिखा कि वो आज जो भी हैं उसमें रासबिहारी मनियार जी का अहम योगदान है.
उन्होंने लिखा, ”अपने विद्यालय के शिक्षक रासबिहारी मनियार के निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दु:ख हुआ है. मुझे बनाने में उनका अमूल्य योगदान है, मैं जीवन के इस पड़ाव तक उनके साथ जुड़ा रहा हूं और एक छात्र के रूप में मुझे जीवन भर उनका मार्गदर्शन प्राप्त करने का संतोष है.” पीएम मोदी ने इस पोस्ट के साथ जो वीडियो शेयर किया है, उसमें वह रासबिहारी मनियार को माला पहनाते और उनका सम्मान करते नजर आ रहे हैं.

बता दें, पीएम मोदी फिलहाल गुजरात दौरे पर हैं. इस दौरान उन्होंने 26/11 के मुंबई आतंकवादी हमलों को याद करते हुए रविवार को कहा कि गुजरात और देश को कांग्रेस और समान विचारों वाले ऐसे दलों से बचाना जरूरी है जो अपने वोट बैंक को सुरक्षित रखने के लिए बड़े आतंकवादी हमलों पर चुप रहते हैं. गुजरात के खेड़ा जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस और उसके समान विचार वाले कई दल आतंकवाद को कामयाबी पाने का शॉर्टकट समझते हैं.

गुजरात विधानसभा चुनाव के तहत एक और पांच दिसंबर को मतदान होगा. उन्होंने कहा, कांग्रेस आतंकवाद को वोट बैंक के चश्मे से देखती है. न केवल कांग्रेस, बल्कि उसके समान विचार वाले कई दल आ गये हैं जो आतंकवाद को कामयाबी पाने के शॉर्टकट के रूप में देखते हैं और ऐसे छोटे दलों की सत्ता की भूख और भी बड़ी है. मोदी ने कहा, जब बड़े आतंकवादी हमले होते हैं तो इन दलों के मुंह बंद रहते हैं कि कहीं उनका वोट बैंक नाराज न हो जाए. वे आतंकवादियों को बचाने के लिए पिछले दरवाजे से अदालत भी जाते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.