DU के छात्र BBC डॉक्‍यूमेंट्री स्‍क्रीनिंग पर अड़े, धारा 144 लागू, कई छात्र हिरासत में

बीबीसी द्वारा PM मोदी पर बनाई गयी डॉक्‍यूमेंट्री को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। जेएनयू, जामिया के बाद इसकी लहर दिल्ली यूनिवर्सिटी तक पहुंच गई है। दिल्‍ली की 4 यूनिवर्सिटी में डॉक्‍यूमेंट्री की स्‍क्रीनिंग को लेकर विवाद जारी है।

(एन एल एन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): बीबीसी द्वारा PM मोदी पर बनाई गयी डॉक्‍यूमेंट्री को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। जेएनयू, जामिया के बाद इसकी लहर दिल्ली यूनिवर्सिटी तक पहुंच गई है। दिल्‍ली की 4 यूनिवर्सिटी में डॉक्‍यूमेंट्री की स्‍क्रीनिंग को लेकर विवाद जारी है। छात्रों का कहना था कि वे यह डॉक्यूमेंट्री देखना चाहते हैं, जबकि पुलिस उन्हें देखने नहीं दे रही है। वहीं, पुलिस का कहना है कि इस डॉक्यूमेंट्री पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है, लिहाजा इसकी स्क्रीनिंग की इजाजत नहीं दी जा सकती। बता दे दिल्ली यूनिवर्सिटी की आर्ट्स फैकल्टी के पास धारा 144 लागू है। यहां भीड़ जमा होने की इजाजत नहीं दी जा सकती। हंगामे के बाद कुछ छात्रों को हिरासत में लिया गया है।

दिल्‍ली यूनिवर्सिटी NSUI का कहना है, ‘हम दिल्ली पुलिस से अनुरोध करना चाहते हैं कि हमें स्क्रीनिंग की अनुमति दें, हम इसे चुपचाप करेंगे। कोई दंगा नहीं भड़केगा। बता दें कि केंद्र सरकार की ओर से बीबीसी के डॉक्यूमेंट्री पर बैन लगा दिया गया है। उधऱ, केंद्र सरकार के निर्देश की अवहेलना करते हुए विपक्षी दलों के छात्र निकायों और युवा शाखाओं ने विभिन्न राज्यों में कॉलेज परिसरों में डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग आयोजित करने की घोषणा की है।

हैदराबाद में SFI ने 400 से अधिक छात्रों को विवादित डॉक्यूमेंट्री दिखाई। जवाब में RSS की स्टूडेंट्स विंग और ABVP कार्यकर्ताओं ने यूनिवर्सिटी कैंपस में ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म की स्क्रीनिंग की। SFI ने डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग से जुड़ी एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर पोस्ट की। इसके कैप्शन में लिखा कि ABVP के कार्यकर्ताओं ने हंगामा करने की कोशिश की, लेकिन हमने उन्हें कामयाब नहीं होने दिया। ABVP कार्यकर्ताओं ने यूनिवर्सिटी प्रशासन पर कैंपस में BBC की डॉक्यूमेंट्री दिखाने की अनुमति देने का आरोप लगाया। इसके विरोध में कार्यकर्ताओं ने यूनिवर्सिटी मेन गेट पर प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने हमें कैंपस में ‘द कश्मीर फाइल्स’ की स्क्रीनिंग करने से रोकने का प्रयास किया।

इस डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग को लेकर 24 जनवरी को जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) और जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में भी विवाद हुआ। JNU में छात्र डॉक्यूमेंट्री न देख पाएं इसलिए प्रशासन ने बिजली गुल कर दी और इंटरनेट कनेक्शन भी काट दिया।इसके बाद भी छात्र नहीं माने और उन्होंने डॉक्यूमेंट्री को मोबाइल पर डाउनलोड करने का क्यूआर कोड शेयर किया। विवाद इतना बढ़ गया कि डॉक्यूमेंट्री देख रहे छात्रों पर देर रात पथराव किया गया। पथराव किसने किया, यह पता नहीं चल पाया है। हमलावर अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.