महाराष्ट्र: फोन उठाने पर ‘हैलो’ नहीं ‘वंदे मातरम’ बोलेंगे सरकारी कर्मचारी- शिंदे सरकार के मंत्री का ऐलान

महाराष्ट्र: फोन उठाने पर ‘हैलो’ नहीं ‘वंदे मातरम’ बोलेंगे सरकारी कर्मचारी- शिंदे सरकार के मंत्री का ऐलान

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): महाराष्ट्र में नई सरकार बनने के बाद कई तरह के बदलाव देखने को मिल रहे हैं। अब सांस्कृतिक मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने ऐलान किया है कि महाराष्ट्र के सरकारी कार्यालयों में अब फ़ोन उठाने पर हैलो की जगह सरकारी कर्मचारी ‘वंदे मातरम’ बोलेंगे। शिंदे-फडणवीस सरकार के कैबिनेट मंत्रियों के विभागों का रविवार (14 अगस्त, 2022) को बंटवारा हो गया। इस दौरान सुधीर मुनगंटीवार को वन विभाग के साथ सांस्कृतिक मामलों का विभाग सौंपा गया है।

सांस्कृतिक मामलों के मंत्री बनने के कुछ ही देर बाद मुनगंटीवार ने यह अहम फैसला लिया है। मंत्रालय के मुताबिक जल्द ही संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा। वहीं मुनगंटीवार ने यह भी कहा कि आज इसकी शुरुआत महाराष्ट्र से हो रही है। बाद में इसे देशभर में अपना लिया जाएगा।

मंत्री ने आगे कहा कि आज तक अंग्रेजों द्वारा दिए गए शब्द का प्रयोग किया जाता रहा है। फोन उठाते ही मैं ‘हैलो’ कहता हूं। जब यह देश गुलाम था तो उन्होंने यह शब्द दिया था। स्वतंत्रता सेनानियों ने वंदे मातरम कहते हुए तिरंगा अपने हाथों में लिया और मंगलकलश के रूप में इस देश को आजादी दिलाई, लेकिन अंग्रेजों की छाप अभी भी कम नहीं हो रही है। इसलिए आज संस्कृति मंत्रालय के मंत्री के तौर पर मैं पहले फैसले की घोषणा कर रहा हूं। अब कोई हैलो नहीं कहेगा, बल्कि इसकी जगह वंदे मातरम बोलेगा।

मुनगंटीवार कहा कि इस बाबत आधिकारिक सरकारी आदेश 18 अगस्त तक आ जाएगा। मंत्री ने कहा कि मैं चाहता हूं कि राज्य के सभी सरकारी अधिकारी अगले साल 26 जनवरी तक फोन उठाने पर वंदे मातरम कहें।
उन्होंने कहा कि इसका संकल्प 15 अगस्त यानी कल से शुरू होगा। आप भी संकल्प लें कि अब इसके बाद हम मोबाइल पर वंदे मातरम बोलेंगे। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक विभाग के माध्यम से हम इस अभियान को 15 अगस्त से 26 जनवरी तक लागू करेंगे। हम महाराष्ट्र के हर जिले में इसकी शुरुआत करने जा रहे हैं।
बता दें, महाराष्ट्र में रविवार (14 अगस्त, 2022) को मंत्रिमंडल विस्तार के बाद विभागों का भी बंटवारा हो गया है। डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस को गृह और वित्त विभाग की जिम्मेदारी मिली है। वहीं, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे शहरी विकास, पर्यावरण, अल्पसंख्यक, परिवहन, आपदा प्रबंधन संभालेंगे। चंद्रकांत पाटिल को उच्च और तकनीकी शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी मिली है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.