ओडिशा : सीएम नवीन पटनायक ने सभी मंत्रियों का लिया इस्तीफा ।

कुछ विवादों के चलते सरकार की प्रतिष्ठा पर भी सवाल उठ रहे थे। मंत्रियों ने अपना इस्तीफा डिप्टी स्पीकर को सौंपा।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): शनिवार को ओडिशा के राज्य मंत्रीमंडल सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। दरअसल CM नवीन पटनायक मंत्रिमंडल में फेरबदल करना चाह रहे थे। राज्या का नया मंत्रिमंडल 5 जून को दोपहर 11.45 बजे शपथ ले सकता है। सत्तारुढ़ बीजू जनता दल (BJD) ने पिछले महीने 29 मई को अपने कार्यकाल के तीन साल पूरे किए हैं। इसके बाद से ही अटकलें लगनी शुरू हो गई थीं कि मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल हो सकता है।
ओडिशा में राजनीतिक फेरबदल:नवीन पटनायक ने लिया सभी मंत्रियों का इस्तीफा, नया मंत्रिमंडल कल से सकता है शपथ
2 घंटे पहले
ओडिशा में शनिवार को सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। दरअसल CM नवीन पटनायक मंत्रिमंडल में फेरबदल करना चाह रहे थे। राज्या का नया मंत्रिमंडल 5 जून को दोपहर 11.45 बजे शपथ ले सकता है। सत्तारुढ़ बीजू जनता दल (BJD) ने पिछले महीने 29 मई को अपने कार्यकाल के तीन साल पूरे किए हैं। इसके बाद से ही अटकलें लगनी शुरू हो गई थीं कि मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल हो सकता है।
कुछ विवादों के चलते सरकार की प्रतिष्ठा पर भी सवाल उठ रहे थे। मंत्रियों ने अपना इस्तीफा डिप्टी स्पीकर को सौंपा। सबसे पहले ओडिशा विधानसभा के अध्यक्ष सूर्य नारायण पात्रो ने अपना इस्तीफा सौंपा। इसके बाद सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया।
सूत्रों के मुताबिक उद्योग और ऊर्जा मंत्री कैप्टन दिब्या शंकर मिश्रा को कैबिनेट से बाहर किया जा सकता है। इसके अलावा सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री रघुनंदन दास, योजना एवं अभिसरण, वाणिज्य एवं परिवहन मंत्री पद्मनाभ बेहरा, इस्पात एवं खनन, निर्माण मंत्री प्रफुल्ल कुमार मलिक, कौशल विकास एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री प्रेमानंद नायक का विभाग बदला जा सकता है।
इस बीच चिकिटी विधायक उषा देवी को ओडिशा विधानसभा के अध्यक्ष के रूप में सूर्य नारायण पात्रो की जगह लेने के लिए तैयार किए जाने की खबरें हैं। अगर ऐसा होता है तो वह ओडिशा की पहली महिला अध्यक्ष होंगी।ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक 20 जून से विदेश यात्रा पर जाने वाले हैं, ऐसा माना जा रहा है कि वह विदेश जाने से पहले अपने मंत्रालय में बड़ा फेरबदल करना चाहते हैं। सीएम पटनायक का रोम और दुबई जाने का कार्यक्रम है।
दो महीने पहले आंध्र प्रदेश में पूरी कैबिनेट ने इस्तीफा दे दिया था। राज्य के सभी 24 मंत्रियों ने अपना इस्तीफा CM जगन मोहन रेड्डी को सौंपा था। जगन मोहन पूरी कैबिनेट को बदलने की तैयारी कर रहे थे। दरअसल 2019 के चुनाव में भारी जीत के तुरंत बाद जगन रेड्डी ने ऐलान किया था कि वे अपने कार्यकाल के आधे समय में ही पूरी तरह से नई टीम का चुनाव करेंगे। मंत्रिमंडल में यह फेरबदल पिछले साल दिसंबर में ही होना था, लेकिन कोरोना की वजह से इसे टालना पड़ा था। इसके बाद नए मंत्रिमंडल ने वहां शपथ ली थी। फिलहाल नए घटनाक्रम में मंत्रिमंडल के स्वरूप का इंतजार पूरे राज्य को है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.