युद्ध के बीच रूस को कड़ा संदेश देने को यूक्रेन जा सकते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ।

इससे पहले जो बाइडेन ने कहा था कि अमेरिका के अधिकारी इस बात पर विचार कर रहे हैं कि यूक्रेन के समर्थन के लिए एक वरिष्ठ अधिकारी को भेजना चाहिए या नहीं।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): रूस और यूक्रेन का युद्ध दुनिया को दो भागों में बांटता दिख रहा है। यूक्रेन और रूस के बीच जारी जंग (Russia Ukraine War) के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि वह आने वाले समय में यूक्रेन का दौरा करने के लिए तैयार हैं। नेक्स्टा की ओर से ट्वीट किए गए वीडियो में जो बाइडेन पत्रकारों से बातचीत करते दिख रहे हैं। इस दौरान जब उनके पूछा गया कि क्या वह अधिकारियों को यूक्रेन भेजेंगे? इस पर उन्होंने कहा कि हम अभी यह फैसला कर रहे हैं।
वहीं, जब उनसे यह पूछा गया कि क्या वह यूक्रेन का दौरा करेंगे इस पर उन्होंने हां में जवाब दिया। बाइडेन का यह बयान तब आया है जब इस तरह की खबरें सामने आ रही हैं कि अमेरिका यूक्रेन में अपने अधिकारियों को भेजने को लेकर विचार कर रहा है। अगर जो बाइडेन यूक्रेन जाते हैं तो यह रूस के लिए कड़ा संदेश होगा कि अमेरिका यूक्रेन के साथ खड़ा है। वहीं, इससे पहले जो बाइडेन ने कहा था कि अमेरिका के अधिकारी इस बात पर विचार कर रहे हैं कि यूक्रेन के समर्थन के लिए एक वरिष्ठ अधिकारी को भेजना चाहिए या नहीं।
सूत्रों के आधार पर रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका के रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन या विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन यूक्रेन का दौरा कर सकते हैं, लेकिन बाइडेन के ऐसा करने की संभावना नहीं है। जो बाइडेन ने इससे पहले बुधवार को यूक्रेन को 80 करोड़ डॉलर की अतिरिक्त सैन्य सहायता देने की घोषणा की थी। बाइडेन ने यह भी कहा था कि आक्रमण से बचने के लिए हेलीकॉप्टर महत्वपूर्ण हैं, इसलिए उन्होंने यूक्रेन को अतिरिक्त हेलीकॉप्टर भेजने को मंजूरी दे दी है।
अपने एक बयान में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, “हम आराम से नहीं बैठ सकते। जैसा हमने राष्ट्रपति जेलेंस्की को आश्वासन दिया था, कि अमेरिका के लोग स्वतंत्रता की लड़ाई में यूक्रेन के बहादुर लोगों के साथ खड़े रहेंगे।”
रूस पर यूक्रेन के हमले को 51 दिन हो गए हैं. पश्चिमी देश जहां एक ओर इसे अकारण थोपा गया युद्ध बता रहे हैं तो वहीं रूस इसे यूक्रेन की सेना और रूस के दुश्मनों के खिलाफ चलाया जा रहा ‘स्पेशल ऑपरेशन’ बता रहा है। फिलहाल इस युद्ध का कोई निर्णायक परिणाम निकलता नहीं देख रहा है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.