कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार अलर्ट पर, पीएम ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग ।

महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कई शहरों में लॉकडाउन लगाया गया है। जबकि पुणे, पंजाब, गुजरात, एमपी समेत कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): देश में कोरोना के कारण हालात एक बार फिर बिगड़ने लगे हैं। आज देश भर में कोरोना के 90 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। देश में कोरोना के बिगड़ते हालात को देखते हुए केंद्र सरकार हाई अलर्ट पर आ गई है। कोरोना की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए पीएम मोदी ने आज एक उच्च स्तरीय बैठक(High Level Meeting) बुलाई। इसमें देश में कोरोना की मौजूदा स्थिति पर चर्चा की गई है। इस बैठक में कोरोना से जुड़े मुद्दों और देश में चल रहे टीकाकरण की समीक्षा की गई है। इस हाई लेवल मीटिंग में कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, स्वास्थ्य सचिव, डॉ विनोद पॉल सहित सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।
गौरतलब है कि देश के कई राज्यों में कोरोना के प्रसार पर लगाम लगाने के लिए लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू और धारा-144 जैसे कदम उठाए गए हैं। महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कई शहरों में लॉकडाउन लगाया गया है। जबकि पुणे, पंजाब, गुजरात, एमपी समेत कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। इसके साथ ही देश के कई अन्य राज्यों में सरकारों की ओर से धारा-144 जैसे कदम उठाए गए हैं।
देश में कोरोना वायरस के नए मामलों में वृद्धि तेजी से जारी है। बीते 24 घंटों में देश में कोरोना संक्रमण के 93 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 513 लोगों की मौत हुई है। देश के करीब 11 राज्यों में कोरोना के नए मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अकेले महाराष्ट्र में बीते एक दिन में 49,000 से ज्यादा मामले सामने आए तो वहीं छत्तीसगढ़ में 5800 से ज्यादा नए मामले सामने आए। दिल्ली की बात करें तो यहां भी 3500 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं।
देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 1,24,85,509 हो गए हैं। वहीं इस वायरस से देश में 1,16,29,289 लोग ठीक हो चुके हैं। देश कोविड 19 के 6,91,597 सक्रिय केस हैं। वहीं इस घातक वायरस से अब तक 1,64,623 मौतें हो चुकी हैं।
महाराष्ट्र समेत आठ राज्यों से ही 81.42 फीसद नए मामले हैं। इनमें कर्नाटक, छत्तीसग़़ढ, दिल्ली, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पंजाब और मध्य प्रदेश शामिल हैं। इन आठ राज्यों के अलावा गुजरात, हरियाणा, राजस्थान और केरल में भी मामलों के बढ़ने का ट्रेंड बना हुआ है।
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से स्थिति और खराब होती जा रही है। एक दिन में करीब 50 हजार नए मामले मिलने के बाद उद्धव ठाकरे सरकार आपात स्थिति से निपटने की तैयारियों में बड़े स्तर पर जुट गई है। अस्पतालों में और बेड, एंबुलेंस और ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। हालात में सुधार नहीं होने पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फिर से लॉकडाउन लगाने के संकेत दिए हैं।
मध्य प्रदेश ने महाराष्ट्र की सीमा को सील किया है। सीएम शिवराज ने कहा है कि जल्द ही छत्तीसगढ़ से आने-जाने पर भी प्रतिबंध लगेगा। मध्य प्रदेश में कोरोना के बिगड़े हालात के बाद कई शहरो में हर रविवार को लॉकडाउन लगाया जा रहा है।
यूपी में करीब छह महीने बाद शनिवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 3290 कोरोना मरीज मिले, जबकि 14 मरीजों की मौत हो गई। पिछले साल पहले नौ अक्टूबर को 3240 रोगी मिले थे, इसके बाद से रोगियों की संख्या लगातार घट रही थी।
देश में एक अप्रैल से टीकाकरण की रफ्तार में भी तेजी आई है। टीकाकारण की बात करें तो अब तक वैक्सीन की 7,59,79,651 डोज लोगों को दी जा चुकी हैं। पिछले 24 घंटों में 27,38,972 डोज दी गईं। फिलहाल कोरोना के खिलाफ रणनीतिक तैयारियां जोरों पर हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.