पश्चिम बंगाल: भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर कथित टीएमसी कार्यकर्ताओं ने किया हमला।

बात दरासल पश्चिम बंगाल की हैं जहां भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला हुआ है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): बात दरासल पश्चिम बंगाल की हैं जहां भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला हुआ है। भाजपा ने बताया है कि हमले में पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय समेत कई नेता घायल हुए हैं। भाजपा नेताओं ने हमले के लिए टीएमसी को जिम्‍मेदार ठहराया है जबकि पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने इसे ‘भाजपा की नौटंकी’ करार दिया है। वहीं केंद्र सरकार ने नड्डा के पश्चिम बंगाल दौरे के दौरान कथित गंभीर सुरक्षा खामियों पर राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब कर ली है।भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि ममता जी हमेशा सच्चाई को छिपाने की कोशिश करती हैं। बंगाल में अराजकता पराकाष्ठा पर है। राज्य प्रशासन ध्‍वस्‍त हो गया है और ये सब ममता जी के आशीर्वाद से हो रहा है। बंगाल की जनता जागृत जनता है वो जवाब देना जानती है। ममता जी की ज़मीन खिसक चुकी है जिस वजह से उनको बौखलाहट है। हमारी लड़ाई लोकतांत्रिक तरीके से होगी। हम जनता के बीच जाएंगे और सारी बातें रखेंगे। ममता जी ने जिस तरह से झूठ फैलाया है और लोगों को गुमराह किया है, लोगों के विकास के काम रोके हैं वो जनता तक पहुंचाएंगे।

हमले के बाद भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि मैं इसलिए सुरक्षित हूं क्योंकि मेरे पास बुलेट प्रूफ गाड़ी थी। आज कोई ऐसी गाड़ी नहीं थी जिस पर हमला न हुआ हो। हमें इस गुंडाराज को खत्म करके प्रजातंत्र को यहां आगे बढ़ाना है। टीएमसी के कार्यकर्ताओं और उनके गुंडों ने लोकतंत्र का गला घोंटने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। यह अराजकता ज्यादा दिन नहीं चलने वाली है।गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि मंत्रालय ने भाजपा अध्यक्ष के दौरे के समय कथित गंभीर सुरक्षा खामियों को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट मांगी है। वहीं बंगाल प्रदेश इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने दावा किया है कि कोलकाता में नड्डा के कार्यक्रमों के दौरान यह देखा गया कि सुरक्षा इंतजामों में गंभीर खामियां थीं। ऐसा पुलिस विभाग की लापरवाही की वजह से था। नड्डा के काफि‍ले पर उस वक्‍त हमला हुआ जब वह डायमंड हार्बर में कार्यकार्ताओं से मिलने जा रहे थे।पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि भाजपा के पास कोई काम नहीं है। कभी यहां गृह मंत्री अमित शाह होते हैं तो कभी चड्ढ़ा, नड्डा, फड्डा, भड्डा होते हैं। जब उन्‍हें यहां लोगों का समर्थन नहीं मिलता है तो वे अपने कार्यकर्ताओं से नौटंकी कराते हैं। आपके साथ सुरक्षाकर्मी हैं। कोई आप पर हमला कैसे कर सकता है? राज्य के बजाए आप केंद्रीय बलों पर भरोसा करते हैं। हमले की योजना बनाई गई हो सकती है, मैंने पुलिस से जांच करने को कहा है।इस हमले पर केंद्रीय गृहमंत्री और दिग्‍गज भाजपा नेता अमित शाह ने कहा कि तृणमूल शासन में बंगाल अत्याचार, अराजकता और अंधकार के युग में जा चुका है। तृणमूल कांग्रेस के राज में पश्चिम बंगाल के अंदर जिस तरह से राजनीतिक हिंसा को संस्थागत कर चरम सीमा पर पहुंचाया गया है।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.