बिहार: सुशील कुमार मोदी ने जनतांत्रिक गठबंधन की तरफ से राज्यसभा उपचुनाव के लिए किया नामांकन।

बुधवार को सुशील कुमार मोदी ने जनतांत्रिक गठबंधन की तरफ से राज्यसभा उपचुनाव के लिए अपना नामांकन किया।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ):बुधवार को सुशील कुमार मोदी ने जनतांत्रिक गठबंधन  की तरफ से राज्यसभा उपचुनाव के लिए अपना  नामांकन  किया। नामांकन के वक्‍त उनके साथ मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद रहे। इस बीच विपक्षी महागठबंधन  के प्रत्‍याशी को लेकर सस्‍पेंस बरकरार है। महागठबंधन की तरफ से राष्‍ट्रीय जनता दल  ने लोक जनशक्ति पार्टी  के संस्‍थापक रहे राम विलास पासवान की पत्‍नी रीना पासवान को प्रत्‍याशी बनाने का ऑफर दिया था, जिसे पार्टी के अध्‍यक्ष चिराग पासवान ने ठुकरा दिया है। यह सीट राम विलास पासवान के निधन के बाद खाली हुई है। कहा जा रहा है कि महागठबंधन की तरफ से श्‍याम रजक को प्रत्‍याशी बनाया जा सकता है। वैसे, सुशील मोदी की जीत तय देखते हुए महागठबंधन प्रत्‍याशी नहीं देने पर भी विचार कर रहा है।

सुशील मोदी नामंकन के पहले पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पहुंचे। वहां से वे उपमुख्यमंत्री तारकेश्वर प्रसाद और रेणु देवी तथा वरिष्ठ मंत्री मंगल पांडेय, ‘हम’ प्रमुख जीतन राम मांझी और वीआईपी प्रमुख मुकेश साहनी के साथ संयुक्त रूप से पटना प्रमंडलीय आयुक्त कार्यालय के लिए रवाना हुए। वहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में सुशील मोदी नामांकन ने पत्र दाखिल किया। कोरोना से बचाव की गाइडलाइन के तहत उनके साथ चार लोगों को नामांकन कक्ष में प्रवेश की अनुमति दी गई। इसके अलावा पांच प्रस्तावक भी नामांकन कक्ष में गए। नामांकन के बाद उन्‍होंने एनडीए के सभी घटक दलों को सहयोग के लिए धन्‍यवाद दिया।इस बीच विपक्षी महागठबंधन ने राम विलास पासवान के निधन से खाली हुई सीट पर उनकी पत्‍नी रीना पासवान को मैदान में उतारने का फैसला किया। पार्टी ने इसके लिए महागठबंधन के ऑफर की पुष्टि करते हुए बताया कि चिराग पासवान ने इसे खारिज कर दिया। आरजेडी व कांग्रेस अंतिम समय तक बीजेपी से भी रीना पासवान को ही राज्‍यसभा प्रत्‍याशी बनाने का आग्रह करते रहे। सूत्र बताते हैं कि महागठबंधन की तरफ से चिराग पासवान को मनाने की कोशिशें अंतिम समय तक चलती रहीं, लेकिन वे नहीं माने। अब महागठबंधन का उम्‍मीदवार कौन होगा, इसका खुलासा अभी तक नहीं हो सका है। सूत्र बताते हैं कि आरजेडी श्‍याम रजक को मैदान में उतार सकता है। दलित नेता के निधन से खाली हुई सीट पर दलित नेता को मैदान में उतारने तथा पार्टी के समाजिक समीकरणों के लिहाज से श्‍याम रजक फिट बैठते हैं। हालांकि, श्‍याम रजक खुद इसकी जानकारी से इनकार करते हैं। वे कहते हैं कि एनडीए इस सीट पर पासवान की पत्‍नी रीना पासवान को प्रत्‍याशी बनाए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.