प्रधानमंत्री मोदी का वाराणसी में स्वागत।

प्रधानमंत्री आज सोमवार की दोपहर वाराणसी को योजनाओं की सौगात देंगे तो वहीं देव दीपावली पर भी वह शामिल होंगे और काशी के दिव्‍य और भव्‍य आयोजन का भी वह हिस्‍सा बनेंगे।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ):प्रधानमंत्री आज सोमवार की दोपहर वाराणसी को योजनाओं की सौगात देंगे तो वहीं देव दीपावली पर भी वह शामिल होंगे और काशी के दिव्‍य और भव्‍य आयोजन का भी वह हिस्‍सा बनेंगे। सोमवार को दोपहर 12 बजते ही प्रशासन ने सकियता बढ़ा दी और सुरक्षा चाक चौबंद करते हुए अधिकारियों की चयनित स्‍थानों पर तैनाती शुरू कर दी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का देव दीपावली पर बनारस आगमन के पीछे गहरा उद्देश्य छिपा है। कोविड-19 संक्रमण काल में काशी से विश्व को बड़ा संदेश देने की मंशा है। महामारी के बीच उत्सव को कैसे मनाया जा सकता है, पूरा आयोजन इस उद्देश्य में सिमट गया है।दोपहर में पीएम के आगमन के पूर्व मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ लाल बहादुरशास्‍त्री अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट बाबतपुर पहुंच गए। सीएम इस दौरान वहां पर तैयारियों का जायजा लेने के साथ ही पीएम मोदी का स्वागत करने के बाद सभी कार्यक्रमों में शामिल रहेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने भाजपा नेताओं और पदाधिकारियों के साथ पुराने टर्मिनल भवन के वीआइपी लाउंज में नेताओंं और अधिकारियों संग बैठक भी की। वहीं दोपहर 2.10 बजे पीएम विशेष विमान (बोइंग 777-300 ईआर) से आए तो मुख्‍यमंत्री ने एयरपोर्ट पर उनका स्‍वागत किया। स्‍वागत के बाद पीएम हेलीकॉप्टर से कार्यक्रम स्‍थल खजूरी के लिए प्रस्थान कर गए।

बाबतपुर हवाई अड्डे पर उतरने के बाद एप्रन पर सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्य मंत्री आशुतोष टंडन, नीलकंठ तिवारी और रविन्द्र जायसवाल, सांसद मछलीशहर वीपी सरोज, राधा मोहन सिंह, स्वतंत्र देव सिंह, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, अवधेश सिंह, लक्ष्मण आचार्य, अशोक धवन, चेयरमैन अपराजिता सोनकर, महापौर मृदुला जायसवाल, महेशचंद्र श्रीवास्तव, विद्यासागर राय आदि लोगों में उनकी आगवानी की। इस दौरान प्रधानमंत्री ने लोगों से कुशल क्षेम पूछा, उसके बाद दोपहर 2:35 बजे वायुसेना के हेलीकॉप्टर से प्रधानमंत्री खजूरी, मिर्जामुराद के लिए प्रस्थान कर गए।पीएम दोपहर दो बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचने के बाद 2.35 खजुरी मिर्जामुराद सिक्स लेन लोकार्पण और जनसभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद चार बजे डोमरी हेलीपैड से उतरने के बाद 4.20 बजे ललिता घाट और कारिडोर का निरीक्षण करने के बाद बाबा दरबार काशी विश्वनाथ मंदिर में दीपक जलाएंगे। शाम पांच बजे राजघाट पावन पथ वेबसाइट लांच करने के साथ दीप प्रज्वलन और संबोधन भी होगा। वहीं संत रविदास प्रतिमा पर पुष्पांजलि करने के बाद 5.45 बजे रोरो जलयान से घाटों की छटा निहारते चेत सिंह किला पर लेजर शो का अवलोकन करेंगे। शाम 6.30 बजे संत रविदास घाट पर जलयान से उतर कर वाहन पर सवार होकर वह सारनाथ जाएंगे और लेजर शो के साथ खंडहर परिसर का भी अवलोकन करने के बाद बाबतपुर एयरपोर्ट रवाना हो जाएंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.