दिल्ली में खतरनाक स्तर पर पहुंचा वायु प्रदूषण, कई इलाकों में सांस लेना दूभर

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लोगों का सांस लेना दूभर हता जा रहा है। दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ता ही जा रहा है और हवा जहरीली होती जा रही है। लोगों को दिन और शाम के समय में आंखों में जलन की शिकायत होने लगी है। दिल्ली में मंगलवार को कई स्थानों पर वायु गुणवत्ता सूचकांक काफी खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। रोहिणी में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 346 रिकॉर्ड किया गया. इसी तरह आरके पुरम में वायु गुणवत्ता सूचकांक 329 तो आनंद विहार में 377 दर्ज तक दर्ज किया गया। केंद्र सरकार की वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान प्रणाली ने कहा कि पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में बड़ी संख्या में खेतों में पराली जलाए जा रहे हैं, जिससे दिल्ली-एनसीआर की वायु गुणवत्ता के प्रभावित होने की आशंका है। दिन में प्रदूषित हवा की मोटी चादर छाने से दिल्ली में कई जगहों पर विजिबिलिटी काफी कम हो गई है।राजधानी में जहरीले धुंध की परत छाने के बीच वायु की गुणवत्ता लगातार चौथे दिन सोमवार को ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता निगरानी संस्था ‘सफर’ ने कहा कि वायु की गुणवत्ता 31 अक्तूबर तक बहुत खराब श्रेणी में बनी रहने की आशंका है। शहर में सोमवार को 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 353 रहा। रविवार को यह 349, शनिवार को 345 और शुक्रवार को 366 था।

AQI लेवल

0 और 50 के बीच ‘अच्छा’

51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’

101 और 200 के बीच ‘मध्यम’

201 और 300 के बीच ‘खराब’

301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’ 

401 और 500 के बीच एक्यूआई को ‘गंभीर’ माना जाता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.