बिहार में पहले चरण का चुनाव प्रचार थमा, 28 अक्टूबर को होगा मतदान

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : बिहार की 71 विधानसभा सीटों पर प्रथम चरण में 28 अक्टूबर को होने वाले मतदान के लिए आज शाम छह बजे प्रचार का शोर थम गया और अब प्रत्याशी जनसम्पकर् के जरिये वोट जुटाने में लग गये हैं। पहले चरण के मतदान में पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, शिक्षा मंत्री कृष्णनंद प्रसाद वर्मा, कृषि मंत्री प्रेम कुमार, ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेश कुमार, विज्ञान एवं प्रावैधिकी मंत्री जय कुमार सिंह, राजस्व मंत्री रामनारायण मंडल, श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा, खनन मंत्री बृजकिशोर बिंद और परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदयनारायण चौधरी की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है। इस चरण में 28 अक्टूबर को कुल 71 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा। इन 71 विधानसभा क्षेत्रों में पहले चरण के मतदान में बुधवार को 31380 मतदान केंद्र पर दो करोड़ 14 लाख 84 हजार 787 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर 114 महिला और 952 पुरुष प्रत्याशी समेत कुल 1066 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में बंद कर देंगे। मतदाताओं में 21406096 पुरुष, 10129101 महिला और 599 थडर् जेंडर शामिल हैं। पहले चरण के चुनाव में सबसे अधिक 230 प्रत्याशी गया नगर विधानसभा क्षेत्र से ताल ठोक रहे हैं वहीं कटोरिया (सुरक्षित) सीट पर सबसे कम 162 उम्मीदवार भाग्य आजमा रहे हैं। कोरोना काल में देश का पहला बड़ा चुनाव बिहार में हो रहा है। संक्रमण की रोकथाम को लेकर चुनाव आयोग ने रैली, रोड शो और जनसंपर्क पर सख्त दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसे ध्यान में रखते हुए प्रथम चरण के चुनाव प्रचार में अधिकांश सभाएं ऑनलाइन माध्यम से की गईं। हालांकि आयोग निर्देश को ध्यान में रखते हुए कई सभाएं जनता के बीच जाकर भी हुई, जिनमें से कई में दिशा-निर्देशों का पालन नहीं हो पाया। इसके बाद आयोग ने राजनीतिक दलों को सख्त हिदायत दी। इस दौरान सभाएं एवं रोड शो होते रहे और कोरोना वायरस भी अपना काम करता रहा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कई स्टार प्रचारक संक्रमण का शिकार हो गए और वे सभी इलाजरत हैं। इनमें उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और भाजपा बिहार चुनाव के प्रभारी एवं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नाम प्रमुख रूप से शामिल हैं। उनमें कहलगांव, सुल्तानगंज, अमरपुर, धोरैया (सु), बांका, कटोरिया (सु), बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, लखीसराय, शेखपुरा, बरबीघा, मोकामा, बाढ़, मसौढ़ी (सु), पालीगंज, बिक्रम, संदेश, बरहरा, आरा, अगियांव (सु), तरारी, जगदीशपुर, शाहपुर, बरहमपुर, बक्सर, डुमरांव, राजपुर (सु), रामगढ़, मोहनिया (सु), भभुआ, चैनपुर, चेनारी (सु), सासाराम, करगहर, दिनारा, नोखा, डेहरी, काराकाट, अरवल, कुर्था, जहानाबाद, घोसी, मखदुमपुर (सु), गोह, ओबरा, नबीनगर, कुटुंबा (सु), औरंगाबाद, रफीगंज, गुरुआ, शेरघाटी, इमामगंज (सु), बाराचट्टी (सु), बोधगया, गया शहर, टिकारी, बेलागंज, अत्री, वजीरगंज, रजौली (सु), हिसुआ, नवादा, गोविंदपुर, वारसलीगंज, सिकंदरा (सु), जमुई, झाझा और चकाइ शामिल हैं। 

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.