आइपीएल 2020: पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आठ विकेट से हराया।

पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आठ विकेट से मात दिया है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ):पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आठ विकेट से मात दिया है।क्रिस गेल (53) बेशक ‘यूनिवर्स बॉस’ की तरह नहीं खेले लेकिन उनकी वापसी टीम के लिए जीत का पैगाम तो लेकर आई है। कप्तान लोकेश राहुल (61*) तो पहले से ही ऑरेंज कैपधारी हैं। पंजाब ने बृहस्पतिवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को आठ विकेट से हरा दिया। सबसे निचले पायदान की पंजाब की यह आठ मैचों में महज दूसरी जीत है और दोनोें बैंगलोर के ही खिलाफ मिली है। नाटकीय उतार-चढ़ाव के बाद पंजाब को अंतिम गेंद पर पूरन के छक्के से जीत मिली तब तक डगआउट में बैठे कोच अनिल कुंबले सहित खिलाड़ियों के चेहरे पर भी चिंता के भाव साफ झलक रहे थे। टीम पांच मैचों से हार रही थी। इससे पहले विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। कप्तान विराट कोहली (48 रन) और क्रिस मौरिस की 8 गेंदों में नाबाद 25 रन की पारी से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 6 विकेट पर 171 रन बनाए थे। लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब ने की टीम दो विकेट पर 177 रन बना लिए। मयंक अग्रवाल ने 45 रन की पारी खेली और पहले विकेट पर राहुल के साथ 78 रन जोड़े थे।
पंजाब को यह मैच पहले ही जीत जाना चाहिए था जब उसे अंतिम तीन ओवरों में 11 रन की जरूरत थी। मौरिस और उडाना के दो ओवरों में नौ रन आए। इसके बाद चहल के अंतिम ओवर में जीत के लिए दो रन की जरूरत थी लेकिन गेल पहली दो गेंदों पर कोई रन नहीं बना पाए, तीसरी गेंद पर आतिशी शॉट लगाए लेकिन क्षेत्ररक्षक पडिक्कल ने एक रन ही लेने दिया। चौथी गेंद पर फिर रन नहीं बना। पांचवीं गेंद पर क्रिस गेल रनआउट हो गए। अब अंतिम गेंद पर जीत के लिए एक रन की जरूरत थी और पूरन ने बिना दबाव में आए जीत दिला दी।यह नौवां मौका है जब किसी बल्लेबाज ने छक्का मारकर जीत दिलाई है। इससे पहले ऐसा रोहित शर्मा तीन बार कर चुके हैं। धोनी, सौरव तिवारी, जेम्स फ्रेंकलिन, ब्रावो, मिशेल सैंटनर ऐसा कर चुके हैं।इससे पहले बैंगलोर ने पावरप्ले में एक विकेट पर 57 रन बनाए थे। दस ओवरों में टीम दो विकेट पर 83 रन बना चुकी थी। देवदत्त पडिक्कल (18) और फिंच (20) पवेलियन लौट चुके थे। पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल ने छठे ओवर में स्पिनरों को गेंद थमा दी थी। ऐसे में बैंगलोर ने एबी डीविलियर्स (02) को चौथे की जगह छठे क्रम पर उतारा। उनकी जगह उतरे वाशिंगटन सुंदर ने 13 और शिवम दुबे ने 23 रन का योगदान दिया। पंजाब के स्पिनरों ने छठे ओवर से 13वें ओवर तक सिर्फ 48 रन दिए। दुबे ने रवि विश्नोई पर लगातार दो छक्के लगाकर रन दबाव को कम किया। पारी के इस 15वें ओवर में 19 रन बने। दुबे ने 19 गेंद में 23 रन बनाने के साथ चौथे विकेट के लिए कोहली के साथ 41 रन की साझेदारी की।कोहली जब तक गियर बदलते 18वें ओवर में शमी (2/45) ने न केवल उन्हें बल्कि डीविलियर्स को भी एक ओवर में आउट कर बैंगलोर को दोहरा झटका दिया। डीविलियर्स दो रन बनाकर हुड्डा को कैच थमा बैठे जबकि कोहली दो रन से अर्द्धशतक से चूक गए। उनकी 39 गेंद की पारी का अंत राहुल ने शानदार कैच लपक कर किया।अगर शमी के 20वें ओवर में तीन छक्के सहित 24 रन नहीं बने होते तो बैंगलोर का स्कोर इतना भी नहीं होता। अंतिम ओवर में मौरिस ने अंतिम दो गेंदों पर छक्के लगाए जबकि एक छक्का इसुरु उडाना (10*) ने लगाया। मौरिस और उडाना ने आखिरी दो ओवरों में 34 रन जोड़े। शमी के अलावा मुरुगन अश्विन ने भी दो विकेट झटके।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.