रिया चक्रवर्ती को हाईकोर्ट से मिली जमानत, शौविक को नहीं दी जमानत

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग्स के ऐंगल से जांच कर रही एनसीबी ने रिया को 8 सितंबर को गिरफ्तार किया था।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ): ड्रग चैट केस में बॉलिवुड ऐक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती को लगभग 1 महीने बाद बॉम्बे हाई कोर्ट से जमानत मिल गई है। सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग्स के ऐंगल से जांच कर रही एनसीबी ने रिया को 8 सितंबर को गिरफ्तार किया था। हालांकि अपने फैसले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती को जमानत नहीं दी है। रिया के साथ ही सुशांत के स्टाफ रहे सैमुअल मिरांडा और दीपेश सावंत को भी जमानत दे दी गई है। रिया की जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाई कोर्ट ने शौविक चक्रवर्ती और कथित ड्रग पेडलर अब्दुल बासित परिहार को बेल नहीं दी है। रिया के अलावा सुशांत के स्टाफ दीपेश सावंत और सैमुअल मिरांडा को भी जमानत मिल गई है। रिया को एक लाख के मुचलके पर जमानत मिली है। रिहा होने के बाद उन्हें 10 दिनों तक नजदीकी पुलिस स्टेशन पर हाजिरी लगानी होगी। रिया को पासपोर्ट जमा करना होगा और वह अदालत की अनुमति के बगैर विदेश नहीं जा सकेंगी। इससे पहले 29 सितंबर को सभी आरोपियों की जमानत याचिका पर सुनवाई के बाद बॉम्बे हाईकोर्ट के जस्टिस सारंग वी कोतवाल ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। 7 अक्टूबर को फैसला सुनाया जाना था। आज फैसला सुनाते हुए कोर्ट ने जेल में बंद रिया चक्रवर्तीदीपेश और सैमुअल को जमानत दे दी। जांच एजेंसी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने रिया के साथ ही सभी की जमानत का विरोध किया। एजेंसी की तरफ से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने अदालत में कहा था कि रिया ना सिर्फ सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स खरीदती थीं बल्कि वो उसे फाइनेंस भी करती थीं, मतलब वो अवैध ड्रग्स तस्करी सिंडिकेट में शामिल थीं जो समाज के लिए घातक है क्योंकि कोई भी हत्या या गैर इरादतन हत्या की वारदात एक परिवार को प्रभावित करती है लेकिन मादक पदार्थों का नशा पूरे समाज को प्रभावित करता है। हालांकि, रिया के वकील सतीश मानेशिंदे ने अदालत के सामने इस मामले में कोई भी सबूत न होने का दावा किया और उन्होंने ड्रग्स के लिए वित्तीय पोषण की धारा 27A को लगाए जाने को चुनौती दी। बताते चलें कि सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत के बाद उनके परिवार की ओर से रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज कराए गए केस में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की जांच में रिया के फोन से कुछ ऐसे व्हाट्सएप चैट रिट्रीव हुए थे, जो ड्रग्स से जुड़े थे। जिसके बाद इसकी जांच एंटीड्रग एजेंसी (NCB) को सौंप दी गई थी। NCB ने मामले में रिया सहित अब तक कुल 20 लोगों को गिरफ्तार किया है। NCB का दावा है कि सभी आरोपी बॉलीवुड ड्रग्स सिंडिकेट का हिस्सा हैं, हालांकि सिर्फ कुछ गिनेचुने आरोपियों के पास से ही ड्रग्स की बहुत कम मात्रा में बरामदगी को लेकर एजेंसी भी सवालों के घेरे में है। 20 में से 5 आरोपियों को पहले ही जमानत मिल चुकी है, लेकिन रिया चक्रवर्ती की जमानत अर्जी अब तक मजिस्ट्रेट कोर्ट और सत्र न्यायालय से खारिज हो रही थी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.