गणेश चतुर्थी 2020: राशि के अनुसार करें पूजा, बिना बाधा के सभी कार्य पूर्ण होंगे

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : गणपति बप्‍पा को सुखकर्ता और विघ्‍नहर्ता देवता माना गया है। जिनकी कृपा से सभी कार्य बिना की किसी बाधा और रुकावट के पूर्ण होते हैं। गणेशजी को प्रसन्‍न करने का सबसे बेहतरीन अवसर होता है गणेश चतुर्थी। गणेश चतुर्थी पर बप्‍पा की विधि विधान से पूजा की जाती है। दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों को भी इस पूजा में निमंत्रण देने का चलन है। घर में गणेशजी की स्‍थापना की जाती है और 10 तक उनकी सेवा करके 11वें दिन अनंत चतुर्दशी के दिन विदा किया जाता है। इस अवसर पर हम आपको बता रहे हैं कि राशि के अनुसार गणेशजी की पूजा कैसे करें ताकि सभी भक्‍तों पर उनकी अनुकंपा बनी रहे।

मेष:- आपकी राशि अग्नितत्‍व वाले मंगल की राशि मानी जाती है। इसलिए आपको गणेश चतुर्थी के दिन लाल रंग के कपड़े पहनकर पूजा करनी चाहिए। इसके अलावा आपको मूर्ति का चुनाव करते समय वक्रतुंड वाली मूर्ति लेनी चाहिए। इनकी पूजा आपको सभी कष्‍टों से मुक्ति दिलाती है। भोग में रोजाना आप गणेशजी मोतीचूर के लड्डू चढ़ाएं।

वृषभ:- शुक्र के स्‍वामित्‍व वाले इस राशि के लोगों को श्‍वेत या फिर लाल वस्‍त्र पहनकर गणपति की पूजा करनी चाहिए। इसके साथ ही भगवान को नारियल से बनी मिठाई का भोग लगाएं। इसके अलावा आप चाहें तो घी और मिश्री का भोग लगा सकते हैं।

मिथुन:- आपके राशि स्‍वामी बुध हैं और आपके लिए गणेश पूजन के लिए हरे रंग के कपड़े पहनना उचित रहेगा। पूजा की सामग्री में आप पान जरूर रखें। इससे आपको विद्या और बुद्धि की प्राप्ति होती है।

कर्क:- आपका राशि स्‍वामी चंद्र को माना जाता है। इसलिए आप इस गणेशकी पूजा में सफेद कपड़े पहनें और गणेश दूध व मखाने से बनी चीजों का भोग लगाएं। इससे सफेद बताशे, खील एवं धान के लावा का भोग लगना चाहिए जिससे आपका जीवन सुख-शांति से भरपूर हो।

सिंह:- आपका राशि स्‍वामी सूर्य को माना जाता है जो आपको गणपति पूजा के दिन लाल रंग के वस्‍त्र धारण करने चाहिए और साथ ही मोतीचूर के लड्डू का भोग लगाना चाहिए। आप चाहें तो गणेश के साथ पूजा में लक्ष्‍मी माता को भी बैठा सकते हैं। इससे आपके सभी कार्य बिना किसी बाधा के पूर्ण होंगे और आपके घर में सुख समृद्धि आएगी।

कन्‍या:- आपके राशि स्‍वामी बुध हैं और बुध की कृपा और गणेशजी की भक्ति मिलकर आपको बुद्धि प्रदान करते हैं। आपको गणपति स्‍थापना के लिए हरे रंग के वस्‍त्र पहनने चाहिए और साथ में खीर व फलों का भोग गणपति जी को अर्पित करना चाहिए। इसके अलावा आप रोजाना 108 बार ऊं गणपतयै नम: मंत्र का जप करें।

तुला:- तुला राशि के स्‍वामी शुक्र माने जाते हैं। शुक्र को भौतिक सुख और वैवाहिक संबंधों का कारक माना जाता है। गणेशजी की पूजा के लिए आपको नारंगी रंग के वस्‍त्र पहनने चाहिए और भोग में गणेशजी को नारियल के लड्डू चढ़ाएं।

वृश्चिक:- वृश्चिक राशि का स्‍वामी मंगल को माना जाता है और आपको इस दिन लाल वस्‍त्र पहनकर गणेशजी की पूजा करनी चाहिए। इसके अलावा पूजा में लाल फूल जरूर रखें और गणेशजी को रोजाना मोदक का भोग लगाएं। इस प्रकार से पूजा करने वालों के हर संकट दूर होंगे। ऊं नमो भगवते गजाननाय मंत्र की एक माला रोज जपें।

धनु:- आपके राशि स्‍वामी बृहस्‍पति हैं और गणपति की पूजा में आपकी पीत वस्‍त्र पहनने चाहिए और गणेशजी को बेसन के लड्डूओं का भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। परिवार में मधुरता रहेगी और जीवनसाथी को पूरा सम्मान मिलेगा।

मकर:- मकर राशि के स्‍वामी शनि माने जाते हैं। भले ही उन्‍हें काला रंग प्रिय होता है, लेकिन हिंदू धर्म की मान्‍यताओं के अनुसार किसी भी शुभ कार्य में काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए। इसलिए गणेश पूजा के दिन आपको पीले कपडे़ पहनकर भगवान की पूजा करनी चाहिए और मोदक का भोग लगाना चाहिए।

कुंभ:- आपके राशि स्‍वामी भी शनि हैं, लेकिन गणपति पूजा में आपको लाल रंग के कपडे़ पहनने चाहिए। कुंभ राशि वालों को सूखे मेवे का भोग लगाना चाहिए जिससे आप अपने कर्म के क्षेत्र में तरक्की कर सकें। कुंभ राशि वालों को भी ‘शक्ति विनायक’ गणेशजी की पूजा करना चहिए और ‘ॐ गण मुक्तये फट्‍ मंत्र की एक माला रोज जपना चाहिए।

मीन:- मीन राशि के स्‍वामी बृहस्‍पति माने जाते हैं। गणपति की पूजा में आपको नारंगी रंग के कपडे़ धारण करने चाहिए। बप्‍पा आपके सभी कार्य बिना बाधा के पूर्ण करेंगे और आपको शुभ लाभ की प्राप्ति होगी। गणपति जी को आपको मोतीचूर के लड्डू का भोग लगाना चाहिए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.