भारत-चीन के बीच LAC पर हिंसक झड़प, 3 भारतीय जवान शहीद, 5 चीनी सैनिक मारे गए

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : भारत-चीन सीमा विवाद अब बड़े तनाव में तब्दील होता जा रहा है। सोमवार रात लद्दाख की गालवन वैली में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हो गई। इसमें भारत के एक कर्नल और दो जवान शहीद हो गए। जो कर्नल शहीद हुए, वे इन्फैंट्री बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर थे। भारत-चीन सीमा पर 45 साल यानी 1975 के बाद ऐसे हालात बने हैं, जब भारत के जवानों कीशहादत हुई है। इस बार कोई गोली नहीं चली। सैनिकों के बीच पथराव हुआ। डंडों से एकदूसरे पर हमला किया गया। भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई मेंचीन के 5 सैनिक मारे गए हैं और11 जवान घायल हुए हैं। चीन के अखबार द ग्लोबल टाइम्स ने ही इसे कन्फर्म किया है। चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत एकतरफा कार्रवाई न करे, नहीं तो मुश्किलें बढ़ेंगी। वहीं, चीन के अखबार द ग्लोबल टाइम्स ने चीन के विदेश मंत्रालय के हवाले से बताया कि बॉर्डर पर दोनों देशों के बीच रजामंदी बनी थी, लेकिन भारतीय जवानों ने इसे तोड़ दिया और बॉर्डर क्रॉस किया। इसके बाद चीन के सैनिकों पर हमला किया। इसी वजह से हिंसक झड़प हुई। आर्मी की तरफ से जारी बयान में कहा गया, ‘‘कल यानी सोमवार रात को गालवन वैली में डी-एक्स्केलेशन प्रोसेस चल रही थी, लेकिन तभी हिंसा हो गई। हमारे एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए। अभी दोनों देशों की सेनाओं के सीनियर ऑफिसर तनाव कम करने के लिए मौके पर ही मीटिंग कर रहे हैं।’’थोड़ी देर बाद सेना ने दोबारा बयान जारी कर कहा कि हिंसक झड़प मेंदोनों तरफ के सैनिकों की जान गई है। सेना के सूत्रों ने कहा कि दोनों देशों के बीच अब मेजर जनरल लेवल की बातचीत चल रही है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, तीनों सेनाओं के चीफ और विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ मीटिंग की।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.