महाराष्ट्र सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाया लॉकडाउन।

राज्य में शनिवार को 92 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। वहीं अब तक 1666 लोगों इससे संक्रमित हो चुके हैं। 110 लोगों की राज्य में अब तक कोरोना से मौत भी हो चुकी है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : ओम तिवारी : महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना से युद्बध में बड़ा फैसला लिया है, सीएम उद्धव ठाकरे ने शनिवार को राज्य में ऐलान करते हुए कहा कि 30 अप्रैल तक लॉकडाउन लागू रहेगा। उनके मुताबिक, राज्य में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आए सोमवार को पांच सप्ताह हो जाएंगे। हम कह सकते हैं कि अब तक हम कुछ हद तक मामलों की संख्या में बढ़ोतरी को रोकने में सफल रहे हैं। राज्य में शनिवार को 92 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। वहीं अब तक 1666 लोगों इससे संक्रमित हो चुके हैं। 110 लोगों की राज्य में अब तक कोरोना से मौत भी हो चुकी है।महाराष्ट्र खासकर मुंबई में कोरोना महामारी से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। महानगर ही नहीं एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी में कोरोना के बढ़ते मामलों में राज्य सरकार की चिंता बढ़ा दी है। कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए धारावी समेत कुछ अन्य इलाकों में घर-घर की जांच शुरू कर दी गई है। धारावी एवं वरली कोलीबाड़ा सहित कई इलाकों में घर-घर जांच की जांच में कोरोना जैसे लक्षण वाले 292 लोग पाए गए हैं। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) कोरोना पॉजिटिव पाए गए लोगों के नजदीक प्रतिबंधित क्षेत्रों में रहनेवाले सभी लोगों की जांच के दौरान 60 फीसद लोगों में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं। मुंबई की सबसे सघन झुग्गी बस्ती धारावी में घर-घर जांच की मुहिम शुक्रवार को भी जारी रही। इस क्षेत्र में 11 नए कोरोना पॉजिटिव रोगी पाए गए। इनमें से दो व्यक्ति दिल्ली के तबलीगी जमात से लौटे थे। इस इलाके में 45 फीसद से अधिक आबादी मुस्लिम समुदाय की है। शुक्रवार की सामूहिक नमाज पर प्रतिबंध के लिए धारावी में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई थी। पुलिस ने धारावी के प्रमुख मागरें पर मार्च भी किया। अत्यंत संकरी गलियों वाली धारावी की निगरानी के लिए ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।
आज इन प्रयासों का असर धारावी पर दिखाई दिया और सड़कों पर सन्नाटा नजर आया। मुंबई में कोरोना रोगियों की सर्वाधिक संख्या वाली झोपड़पट्टी वरली कोलीवाड़ा में भी घर-घर जांच का सिलसिला चल रहा है। उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने अपने गृह क्षेत्र बारामती लोकसभा क्षेत्र में कोरोना का प्रसार रोकने के लिए भीलवाड़ा पैटर्न अपनाने के निर्देश दे दिए हैं। महारष्ट्र सरकार के इस फैसले से कोरोना के राज्य में फैलाव पर लगाम लगने की उम्मीद है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.