सीमाओं की रक्षा के लिए जवानों की तैनाती में कोरोना के कारण कोई कमी नहीं की गई : बीएसएफ

केंद्र सरकार के आदेश पर कोविड-19 की वजह से जारी लॉकडाउन के दौरान स्थानीय प्रशासन की मदद के लिए विभिन्न राज्यों में BSF इकाइयों को तैनात किया गया है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : ओम तिवारी :  कोरोना के विश्वव्यापी संकट के चलते देश की सीमाओं की रक्षा में कोई कोताही नहीं बरती जा रही है। कोरोना वायरस की महामारी के बीच बीएसएफ के महानिदेशक एसएस देसवाल ने कहा है कि सीमाओं पर सुरक्षाबलों की सतर्कता बनी हुई है और ऐसे ममय सीमा पर जवानों की तैनाती से कोई कमी नहीं की गई है। एसएस देसवाल के पास डीजी आईटीबीपी होने के अलावा डीजी बीएसएफ का अतिरिक्त प्रभार भी है। उन्होंने कहा कि देश में मौजूदा हालात के बीच सेना जरूरतमंदों की सेवा कर रही है, लेकिन सीमा पर तैनाती किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार के आदेश पर कोविड-19 की वजह से जारी लॉकडाउन के दौरान स्थानीय प्रशासन की मदद के लिए विभिन्न राज्यों में BSF इकाइयों को तैनात किया गया है। बीएसएफ के सभी स्वरूपों को निर्देश जारी किए गए हैं कि को जवान पहले से छुट्टी पर हैं, उनकी छुट्टी को 21 अप्रैल तक बढ़ाया जाए। उन्हें टेलीफोन पर हर निर्देशों के बारे में सूचित किया जाए। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण केंद्रों के लिए इसी तरह के निर्देश दिए गए हैं जहां प्रशिक्षण कार्यक्रम पहले से ही चल रहे थे। मंगलवार को बीएसएफ ने एक अलर्ट जारी कर कहा था कि 21 अप्रैल से पहले कोई मूवमेंट नहीं की जाए। बीएसएफ के सभी फॉर्मूलेशन को निर्देश जारी किया गया था कि जो जवान पहले से छुट्टी पर हैं उनकी छुट्टियों को 21 अप्रैल तक बढ़ा दिया जाए। बता दें कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 540 नए मामले सामने आए हैं। जिसके बाद संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़कर 5,734 तक पहुंच गया है। कोविड-19 की बीमारी से 473 लोग ठीक हो चुके हैं, औ अभी तक 166  लोगों की मृत्य हुई है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.