एजाज और आजम ने साथियों सहित लखनऊ कोर्ट परिसर में फेंके बम, कई वकील घायल।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) :   उत्तर प्रदश की राजधानी लखनऊ के कोर्ट परिसर में गुरुवार को बम फेंके गए। धमाके के बाद आगरा में दीवानी परिसर में सुरक्षा के लिहाज से जांच शुरू हो गई है। एसपी सिटी फोर्स के साथ दीवानी परिसर में पहुंच गए हैं और कोर्ट परिसर का निरीक्षण किया जा रहा है। लखनऊ के जिला सत्र न्यायालय में गुरुवार सुबह लखनऊ बार एसोसिएशन के संयुक्त मंत्री संजीव लोधी पर बम से हमला किया। जिसमें वे बुरी तरह से घायल हो गए हैं। वहीं, बम फटने से कई अन्य वकील भी जख्मी हो गए। इस घटना के बाद आगरा दीवानी परिसर में भी पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है। पुलिस को दो देसी बम जिंदा बम मिले हैं। बताया जा रहा है कि लोधी को लक्ष्‍य करके तीन बम फेंके गए जिसमें से एक ही फटा और दो बम बिना फटे ही रह गए। अगर ये बम फट जाते तो गंभीर हादसा हो जाता।
इस बीच एक चश्‍मदीद ने दावा किया है कि 8 से 10 बम फेंके गए और हमलावरों के हाथ में पिस्‍टल भी थी। संजीव लोधी के जूनियर साथी श्‍याम सुंदर लोधी ने बताया कि एजाज अहमद और आजम खान के साथ तीन-चार लोग आए और उन्‍होंने बम से हमला शुरू कर दिया। तीन बम फटे हैं।’ उन्‍होंने कहा कि एजाज और आजम वकील हैं। प्रमोद लोधी को चोट आई है और उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। श्‍याम सुंदर ने बताया कि संजीव लोधी का हमलावरों के साथ बुधवार को किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। श्‍याम सुंदर ने कहा कि हमलावरों के पास पिस्‍तौल भी थी। श्‍याम सुंदर ने कहा कि अगर दोनों बम फट जाते थे तो बड़ा हादसा हो सकता था। बता दें कि लखनऊ की वजीरगंज कचहरी में एक देसी बम फटने के बाद हड़कंप मच गया था। इस घटना में 3 से 4 लोग घायल हो गए हैं, जिन्हें आननफानन इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल भेजा गया है।
यह घटना सामने आने के बाद प्रशासनिक अमले के होश फाख्ता हो गए हैं। पुलिस के मुताबिक हमले में वकील संजीव लोधी बाल-बाल बच गए। पुलिस इसे दो गुटों के बीच टकराव का मामला बता रही है। अचानक धमाके की आवाज से कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गई। मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे हुए हैं और छानबीन की जा रही है। इस घटना के बाद सीसीटीवी फुटेज के जरिए हमलावरों की तलाश की जा रही है।
इस मामले में सेंट्रल बार असोसिएशन के अध्यक्ष आदेश सिंह ने कहा, ‘संजीव लोधी लखनऊ बार असोसिएशन के जॉइंट सेंक्रटरी हैं। उन्हीं के चेंबर के सामने तीन बम फेंके गए हैं। तीन में से एक बम फटा है और दो बम जिंदा मिले हैं। हमलावरों ने तमंचे भी लहराए हैं। कहा जाता है कि लखनऊ बार असोसिएशन के सेक्रटरी जितेंद्र यादव उर्फ जीतू से इनका विवाद चल रहा था। दावा किया जा रहा है जीतू और उन्हीं के लोगों द्वारा यह हमला कराया गया है।’

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com