इमरान द्वारा गलत ट्वीट डिलीट करने के बाद, यूएन में भारतीय राजदूत अकबरुद्दीन ने ली चुटकी।

सैयद अकबरुद्दीन ने कहा- पाकिस्तान की ओर से बार-बार ऐसा ही किया जाता है। पुरानी आदतें कभी नहीं जाती।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : पाकिस्तानी पीएम इमरान खान को एक बार फिर से बेइज्जती झेलनी पड़ रही है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने सोशल मीडिया पर भारत के खिलाफ फर्जी वीडियो पोस्ट किए जाने के मामले पर पाकिस्तान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा- पाकिस्तान की ओर से बार-बार ऐसा ही किया जाता है। पुरानी आदतें कभी नहीं जाती। उधर, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा- फर्जी खबर ट्वीट करो। पकड़े जाओ। डिलीट करो। फिर से वही काम करो। प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार देर रात बांग्लादेश के सात साल पुराने हिंसा के वीडियो को ‘यूपी में मुस्लिमों के खिलाफ भारतीय पुलिस द्वारा अत्याचार करने’ का दावा किया था। हालांकि, फर्जीवाड़े की पोल खुलने के बाद उन्होंने ट्वीट हटा लिया था।
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक वीडियो ट्वीट कर कहा था- उत्तर प्रदेश में पुलिस मुस्लिमों के खिलाफ अभियान चला रही है और उन पर अत्याचार कर रही है। लेकिन, यह वीडियो पुराना और बांग्लादेश में हुए प्रदर्शन का था। इमरान ने ट्वीट में लिखा, ‘‘मोदी सरकार के नस्लीय सफाए के अभियान के तहत भारतीय पुलिस मुस्लिमों पर हमले कर रही है।’’ इमरान ने दावा किया कि मुस्लिमों पर अत्याचार किया जा रहा है। इमरान ने ऐसे तीन ट्वीट किए थे, लेकिन जब ट्विटर यूजर्स ने इस ट्वीट पर इमरान को गलत जानकारी देने के लिए ट्रोल करना शुरू किया तो उन्होंने यह ट्वीट हटा लिए। जिस वीडियो के जरिए इमरान यूपी में पुलिस के मुस्लिमों पर अत्याचार का दावा कर रहे थे, वह वीडियो 2013 में बनाया गया था। इमरान के वीडियो में बांग्लादेश आतंकवाद निरोधी दस्ते की रैपिड एक्शन बटालियन के जवान नजर आ रहे थे। यह वीडियो उस वक्त बना, जब ढाका में पुलिस प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही थी। ढाका में प्रदर्शनकारी ईशनिंदा कानून को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प हो गई थी। इमरान खान ने भारत में नागरिकता संशोधन कानून बनने के संदर्भ में ये ट्वीट किए थे, जिसके खिलाफ भारत में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन और हिंसा हुई। हालांकि, गलत वीडियो पोस्ट करने पर कई ट्विटर यूजर्स ने इमरान को ट्रोल किया और कहा कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को वैश्विक मामलों की समझ और सामान्य ज्ञान नहीं है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.