2020 से पहले बातचीत कर ले चीन, आगे भुगतना होगा खामियाजा – ट्रंप ने दी चीन को चेतावनी

ट्रंप ने चेताया कि इससे पहले कि 2020 में बातचीत और भी बदतर हो जाए उससे बचने के लिए ये बातचीत का सही समय है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा है कि वह तुरंत व्यापार समझौते पर अमेरिका के साथ बातचीत की पहल करे। ट्रंप ने चेताया कि इससे पहले कि 2020 में बातचीत और भी बदतर हो जाए उससे बचने के लिए ये बातचीत का सही समय है। ट्रंप ने कहा कि चीन यह न समझे कि इस बार कोई डेमोक्रेट अमेरिका का राष्ट्रपति बनने जा रहा है, ट्रंप ने कहा वो ही अमेरिका के राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं। तब चीन को खामियाजा भुगतना होगा।बता दें अमेरिका और चीन के बीच दो दिनों तक चली व्यापार वार्ता बिना किसी नतीजे के खत्म हो गई। वार्ता की विफलता के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने शीर्ष अधिकारियों को चीन से आयातित लगभग सभी तरह के माल पर टैरिफ (आयात शुल्क) बढ़ाने की प्रक्रिया शुरू करने के आदेश दे दिए हैं। अमेरिका ने 200 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर टैरिफ की दर को 10 फीसद से बढ़ाकर 25 फीसद कर दिया है। अमेरिका के सीमा शुल्क और सीमा सुरक्षा ने चीन से आने वाले करीब 5,700 से अधिक उत्पादों पर टैरिफ दर बढ़ाई है।

उधर चीन का कहना है कि अमेरिका से उसकी ‘व्यापार वार्ता’ विफल नहीं हुई है, इसका अगला दौर बीजिंग में होगा। चीन के शीर्ष व्यापार वार्ताकार लियू हे ने वाशिंगटन में कहा कि अमेरिका के साथ बीजिंग में व्यापार वार्ता जारी रहेगी। हालांकि, उन्‍होंने यह भी चेतावनी दी कि महत्वपूर्ण सिद्धांतों पर कोई रियायत नहीं दी जाएगी। चीनी उत्पादों पर अमेरिका द्वारा टैरिफ दर बढ़ाए जाने के मामले में उन्‍होंने कहा कि दोनों देशों के बीच ‘व्यापार वार्ता’ में आया यह केवल एक सामान्‍य मोड़ है, बातचीत टूटी नहीं है।जब दो या उससे ज्यादा देश बदले की भावना से एक-दूसरे के लिए व्यापार में अड़चनें पैदा करते हैं तो उसे ट्रेड वॉर यानी व्यापार युद्ध कहा जाता है। इसके लिए एक देश दूसरे देश से आने वाले समान पर टैरिफ या टैक्स लगा देता है या उसे बढ़ा देता है। इससे जो वस्तु आयात की जाती है उसकी कीमत बढ़ जाती हैं, अमेरिका और चीन के बीच यह लंबे समय से जारी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.