उद्धव ठाकरे ने बीजेपी से मुख्यमंत्री पद की मांग की।

उद्धव ठाकरे ने मातोश्री से तीन किलोमीटर की दूरी पर बांद्रा होटल में विधायकों के साथ बैठक की और शिवसेना का स्टैंड स्पष्ट कर दिया।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) :  महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच कोई निर्णायक हल नहीं निकलने के बीच नै खबर ने सबको चौंका दिया है। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी के साथ जारी सियासी गतिरोध के बीच शिवसेना ने पार्टी नेताओं और विधायकों के साथ बैठक की। विधायकों की बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक बार फिर से साफ कर दिया कि उनकी पार्टी मुख्यमंत्री पद की मांग पीछे नहीं हटेगी। गुरुवार को शिवसेना विधायकों की बैठक में उद्धव ठाकरे ने बीजेपी को स्पष्ट संदेश दिया कि शिवसेना को मुख्यमंत्री पद से कम कुछ भी स्वीकार नहीं। साथ ही यह भी सवाल किया कि आखिर हमें इससे कम कुछ चाहिए ही था तो हमने 15 दिन का समय क्यों बर्बाद किया। उद्धव ठाकरे ने मातोश्री से तीन किलोमीटर की दूरी पर बांद्रा होटल में विधायकों के साथ बैठक की और शिवसेना का स्टैंड स्पष्ट कर दिया। शिवसेना की यह बैठक उस अटकलों के बाद आई है, जिसमें कहा जा रहा है कि बीजेपी उसके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है। उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के विधायकों को अपना संदेश उस वक्त दिया, जिस वक्त बीजेपी राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने जा रही थी। बता दें कि बीजेपी ने दोपहर में राज्यपाल से मुलाकात की और राज्य के हालातों से अवगत कराया। साथ ही यह भी कहा कि महाराष्ट्र के लोगों ने शिवसेना और बीजेपी गठबंधन को जनादेश दिया है। महाराष्ट्र LIVE: राज्यपाल से मिली बीजेपी, दो दिनों तक होटल में ठहरेंगे शिवसेना के सभी विधायकसूत्रों की मानें तो आज की बैठक में उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री के पद के लिए अड़े हुए दिखे। औरंगाबाद पश्चिमी से शिवसेना विधायक संजय शिरसत ने कहा कि उद्धव जी ने हमें कहा है कि हम मुख्यमंत्री की पद से कम कुछ भी स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने आगे यह भी कहा कि उद्धव ठाकरे ने कहा कि बीजेपी के साथ मुख्यमंत्री पद को लेकर जो समझौता हुआ था, उससे किसी तरह पीछे नहीं हटेगें। अगर सीएम पद से कम हमें मंजूर ही होता तो हम 15 दिन का समय क्यों बर्बाद करते। वहीं, उद्धव ठाकरे के साथ बैठक के बाद शिवसेना विधायक गुलाबराव पाटिल ने कहा कि हम लोग (शिवसेना विधायक) अगले दिन दिनों तक होटल रंग शारदा में ठहरेंगे। उद्धव ठाकरे जो कहेंगे हम वही करेंगे। 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा के हाल ही में घोषित चुनाव नतीजों में कोई भी पार्टी 145 सीटों के बहुमत के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाई। इसके चलते सरकार गठन में देर हो रही है। चुनाव में भाजपा को 105, शिवसेना को 56, राकांपा को 54 और कांग्रेस को 44 सीटों पर जीत हासिल हुई है। गठबंधन कर चुनाव लड़ी भाजपा और शिवसेना को कुल मिलाकर 161 सीटें मिली हैं। महाराष्ट्र विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल नौ नवंबर को खत्म हो रहा है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com