स‍िनेमाहॉल में अचानक गूंजा ‘अल्‍लाह हू अकबर’ और फिर मच गई चारो ओर अफरा-तफरी ।

दर्शक बेहतरीन फिल्‍म का आनंद ले रहे थे, लेकिन तभी उनके बीच बैठा एक शख्‍स चिल्‍लाते हुए कहता है, ‘अल्‍लाह हू अकबर।’ सिनेमाहॉल का माहौल बदल जाता है। सब डर जाते हैं।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : किसी भी धर्म का नारा सुन कया लोगों के अन्दर डर पैदा होना चाहिए ?  ऊपर वाले के नाम का उच्‍चारण मन को सुकून और अंतरात्‍मा को ताकत देने के लिए ही लिया जाता है। लेकिन हालात देख‍िए, एक शख्‍स ‘अल्‍लाह हू अकबर’ बोलता है और हम सब डर जाते हैं। बीते रविवार को पेरिस में भी कुछ ऐसा ही हुआ। एक थ‍िएटर में ‘जोकर’ फिल्‍म चल रही थी। इसी बीच एक शख्‍स उठता है और ‘अल्‍लाह हु अकबर’ कहता है। पता है इसके बाद क्‍या हुआ? पेरिस के ग्रैंड रेक्‍स सिनेमा में रविवार देर शाम 9:30 बजे का शो था। हॉलीवुड फिल्‍म ‘जोकर’ चल रही थी। दर्शक इस बेहतरीन फिल्‍म का आनंद ले रहे थे, लेकिन तभी उनके बीच बैठा एक शख्‍स चिल्‍लाते हुए कहता है, ‘अल्‍लाह हू अकबर।’ सिनेमाहॉल का माहौल बदल जाता है। सब डर जाते हैं। अंदर भगदड़ जैसी स्‍थ‍िति मच जाती है। पूरा सिनेमाघर ही खाली करवा दिया जाता है। ‘डेली मेल’ की रिपोर्ट के मुताबिक, यह शख्‍स फिल्‍म शुरू होने के बाद कई बार ‘यह राजनीतिक है’ कहते हुए सुना गया। आसपास बैठे लोगों ने उसे चुप होने को कहा। इसके बाद यह शख्‍स अपनी सीट से उठा, उसने अपने सीने पर हाथ रखा और चिल्‍लाकर कहा- अल्‍लाह हू अकबर! ‘अल्‍लाह’ का नाम सुनते ही सिनेमाघर का नाम माहौल बदल गया। लोग चीखने लगे। कुछ लोग अपनी सीट छोड़कर दरवाजे की तरफ भागने लगे। इस शोर में किसी ने यह भी कह दिया कि ‘अल्‍लाह’ का नाम लेने वाले शख्‍स के पास बंदूक भी है। एक स्‍थानीय मीडिया हाउस से बात करते हुए विक्‍टर नाम के दर्शक ने कहा, ‘सब बुरी तरह डर गए थे। लोग भागने लगे। कुछ महिलाएं नीचे गिर गईं।’ वह शख्‍स भी सिनेमाघर से भागने लगा। सिक्‍योरिटी गार्ड्स ने उसे रोकने की कोश‍िश की। लेकिन फिर सिनेमाघर के बाहर खड़ी पेरिस पुलिस ने उसे पकड़ लिया। उसकी उम्र 34 साल बताई जा रही है। उसके पास से कोई हथ‍ियार नहीं मिला है। बता दें कि कई मौकों पर कट्टर इस्‍लामी आतंकी संगठन से जुड़े दहशतगर्द घटना को अंजाम देने से पहले ‘अल्‍लाह हू अकबर’ कहते हुए सुने गए हैं। अरबी के इस कथन का अर्थर है ‘अल्‍लाह महान है।’ सुरक्षा के लिहाज से पूरे रेक्‍स सिनेमा को खाली करवाया गया। बम स्‍क्‍वॉड ने आकर गहन तलाशी ली। हालांकि, किसी भी तरह का विस्‍फोटक या घातक हथ‍ियार नहीं मिला। Le Parisien की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को पूछताछ के बाद उस शख्‍स को छोड़ दिया गया है। पूछताछ के अलावा उसकी मनोरोग संबंधी जांच भी हुई। रेक्‍स सिनेमा के एक डायरेक्‍टर ने बाद में ‘द हॉलीवुड रिपोर्टर’ को बताया, ‘जिस वक्‍त यह सब हुआ, तभी सिनेमाघर में करीब 200 लोग बैठे थे। इस घटना के दौरान 25 दर्शक बाहर चले गए, जबकि बाद बाकी लोगों ने पूरी फिल्‍म देखी। उस शख्‍स की मंशा किसी हमले की नहीं थी। वह इस तरह की हरकत से लोगों का ध्‍यान बंटाना चाहता था, ताकि दर्शकों का सामान चुरा सके।’ मामला तो सुलझ गया लेकिन ‘अल्लाह हू अकबर’ में लोगों को शांति नहीं भय दिखता है, यह भी साबित हो गया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com