हरियाणा विधान सभा चुनाव: 89 सीटों में से 39 BJP को मिलीं व 1 पर आगे, कांग्रेस को 31 व JJP को 10 सीटें।

अब तक कुल 90 में से 89 सीटों के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। इनमें से BJP को 39 सीटों मिली हैं और एक पर वह आगे है। कांग्रेस को 31 सीटें मिली हैं तो जेजेपी ने 10 सीटों पर जीत दर्ज की है।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : हरियाणा विधान सभा चुनावों की मतगणना जारी है। कांटे की टक्‍कर में त्रिशंकु विधानसभा का स्‍वरूप सामने आया है। अब तक कुल 90 में से 89 सीटों के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। इनमें से BJP को 39 सीटों मिली हैं और एक पर वह आगे है। कांग्रेस को 31 सीटें मिली हैं तो जेजेपी ने 10 सीटों पर जीत दर्ज की है। नौ सीटों पर अन्‍य जीते हैं। अन्‍य में इनेलो को एक, गोपाल कांडा की एचएलपी को एक सीट मिली है। सात सीटों पर निर्दलीय प्रत्‍याशी जीते हैं। सीएम मनोहरलाल चुनाव भारी अंतर से जीत गए, लेकिन उनके आठ मंत्री चुनाव हार गए। अनिल विज औ जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी राज्य मंत्री डा. बनवारी लाल को छोड़कर उनकी कैबिनेट के सभी मंत्री चुनाव हार गए। दो मंत्रियों विपुल गोयल और राव नरबीर का टिकट काट दिया गया था। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता व पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और जेजेपी नेता दुष्‍यंत चौटाला भी बड़े अंतर से चुनाव जीते हैं। उधर मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल ने सरकार बनाने का दावा किया है। मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल करनाल सीट से 45 हजार से अधिक मतों से जीत गए हैं। भाजपा के प्रदेश प्रधान सुभाष बराला टोहाना से हार गए हैं। उनको जेजेपी के देवेंद्र बबली ने हराया। अब तक भाजपा की 40, कांग्रेस की 31 और जेजेपी की 10 सीटों पर बढ़त है। अन्‍य नौ सीटों पर आगे हैं। हरियाणा के सात मंत्री हार गए। राेहतक से सहकारिता मंत्री मनीष ग्राेवर भी हार गए हैं। कैबिनेट मंत्रियों में एकमात्र अनिल विज जीते हैं। दादरी से दंगल गर्ल बबीता फौगाट हार गई हैं। उनको भाजपा के बागी उम्‍मीदवार ने हराया। इसके साथ ही मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल शाम को राज्‍यपाल सत्‍यदेव नारायण आर्य से चंडीगढ़ में राजभवन में मुलाकात करेंगे। अब जेजेपी के साथ ही निर्दलीय विधायकों पर भी सभी दलों की निगाह हो गई है। इनेलो के नेता अभय चौटाला डबवाली से चुनाव जीते हैं और उनके रुख पर भी कांग्रेस व भाजपा की नजर होगी। शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, परिवहन मंत्री कृष्‍णलाल पंवार, कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ और महिला विकास मंत्री कविता जैन सहित कई दिग्‍गज हार गए हैं। कांग्रेस के राष्‍ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला कैथल से चुनाव हार गए हैं। योगेश्‍वर दत्‍त भी हार गए हैं। योगेश्‍वर दत्‍त बरोदा से चुनाव लड़ रहे थे। दूसरी भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्‍तान व पिहोवा से भाजपा प्रत्‍याशी संदीप सिंह चुनाव जीत गए हैं। अब तक 38 पर भाजपा आगे है। 33 सीटों पर कांग्रेस आगे है। जेजेपी भी 10 सीटों पर आगे है। नौ सीटों पर अन्‍य आगे हैं। मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल करनाल से 40 हजार से अधिक मतों से आगे चल रहे हैं। पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा गढ़ी-सांपला-किलाेई से करीब 54 हजार मतों से आगे चल रहे हैं। राज्‍य में 1169 उम्मीदवारों चुनाव मैदान में थे। दूसरी ओर भाजपा, कांग्रेस और जेजेपी में नए समीकरण को लेकर हलचल शुरू हो गई है। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता व पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सभी विपक्षी दलों से भाजपा के खिलाफ एकजुट होने की अपील की है। इससे पहले कड़ी सुरक्षा के बीच ठीक सुबह आठ बजे मतगणना शुरू हुई। भाजपा के सात मंत्री अभी पीछे चल रहे हैं। इनमें कैप्‍टन अभिमन्‍यु, ओमप्रकाश धनखड़, कविता जैन और कृष्‍णलाल पंवार शामिल हैं। रोहतक से मनीष ग्रोवर भी रोहतक से 98 वोटों से आगे हो गए हैं। पिछले पांच साल से सत्तारूढ़ भाजपा को जहां इस बार फिर हरियाणा में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने की उम्मीद है, वहीं कांग्रेस भी सत्ता में आने को लेकर आशान्वित है। जननायक जनता पार्टी का दावा है कि राज्य में त्रिशंकु विधानसभा आ सकती है और सत्ता की चाबी दुष्यंत सिंह चौटाला के पास होगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.