राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को घेरा ।

बता दें कि हरियाणा के कुरुक्षेत्र में अपने सम्बोधन के दौरान पीएम ने कांग्रस को फिर से घेरा हैं।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) :बता दें कि हरियाणा के कुरुक्षेत्र में अपने सम्बोधन के दौरान पीएम ने कांग्रस को फिर से घेरा हैं। कुरुक्षेत्र के थीम पार्क में चुनावी रैली में मोदी ने कांग्रेस पर सवाल दागते हुए कहा कि देश कब तक आतंकवाद का दंश झेलता रहेगा। कब तक भारत माता के सपूतों के शव तिरंगे में लिपटकर आते रहेंगे।कब तक माताओं की कोख सूनी होती रहेगी। कश्मीर की वे माताएं जो आतंकवाद के रास्ते पर चल पड़े अपने बेटों को वापस लाने के लिए पांच-पांच वक्त नमाज अदा करती हैं, चीख-चीख कर उनसे वापस आने की अपील करती हैं। कांग्रेस के मानवतावादी लोग बताएं कि उन माताओं को बेटे वापस मिलने चाहिए कि नहीं। आतंकवाद के रास्ते पर जाने से उन्हें रोकना चाहिए कि नहीं। प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अब अलगाववाद खत्म होना ही चाहिए। हमारे वीर जवान शहीद हो रहे हैं। हरियाणा के हर गांव से वीर जवानों ने कश्मीर में शहादत दी है। सात दशक पहले की भूल सुधारने का सौभाग्य हमें मिला। कश्मीर में हमने बाबा साहब भीम राव अंबेडकर के सिद्धांत को लागू किया। कांग्रेसी अनुच्छेद-370 हटने पर हाय-तौबा मचा रहे हैं। अनुच्छेद-370 हटने से जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में एससी समाज को उनके अधिकार मिले, जिस पर भी कांग्रेस के लोगों को आपत्ति है। मोदी ने कहा कि कांग्रेसियों को आपत्ति है तो हो, देश व हरियाणा के हित में फैसले डंके की चोट पर किए जाएंगे। हालत यह है कि आतंक का सरपरस्त देश कांग्रेस की बातों से ही भारत पर निशाना साध रहा है। विजयदशमी के दिन जब देश को राफेल मिला, कुछ लोगों को बैचेनी होने लगी। पीएम ने जनता से सीधा संवाद करते हुए पूछा कि आपको आनंद आया कि नहीं आया। आपको लगा कि नहीं, देश ताकतवर हुआ है। देश की सैन्य ताकत बढ़ने से आप आनंदित हैं।130 करोड़ देशवासियों का सीना गर्व से ऊंचा हुआ है, लेकिन कांग्रेस के लोगों को न जाने क्या हो जाता है, जब-जब जिस-जिस बात को लेकर देश खुश होता है, तब-तब कांग्रेस के नेताओं को तकलीफ होने लग जाती है। यह बात राफेल तक सीमित नहीं है, जब-जब भारत का गौरवगान होता है, कांग्रेस नेताओं का रवैया हमेशा नकारात्मक रहता है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि राजनीति तो होती रहती है, चुनाव आते-जाते रहते हैं। राजनीति अपनी जगह है, लेकिन देशहित सर्वोच्च है। देश अजर-अमर रहना चाहिए। उससे बढ़कर कुछ नहीं होता। लोकसभा चुनाव में हमने कहा था कि राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूत करेंगे। देश की एकता व अखंडता को नई ताकत दी जाएगी। 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करेंगे। धर्मनगरी से वह कह सकते हैं कि बहुत कम समय में ये वादे जमीन पर उतरना शुरू हो चुके हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि धर्मनगरी में इस बार ऐसे समय में आया हूं, जब पूरा देश श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व की तैयारियों में जुटा हुआ है। व्यापक प्रबंध आयोजनों को लेकर किए जा रहे हैं। गुरुस्थान को जोड़ने वाला करतारपुर कॉरिडोर भी पूरा होने जा रहा है। आने वाले समय में प्रदेश के उज्जवल भविष्य की ओर इशारा किया ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com