राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, बोले- पहले से और बड़ा झटका देंगे

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : स्वदेश निर्मित स्कॉर्पियन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी के शनिवार को बेड़े में शामिल होने के बाद भारतीय नौसेना की ताकत कई गुना बढ़ गई है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में खंडेरी नौसेना को सौंपी गई। आईएनएस खंडेरी पनडुब्बी को नौसेना के बेड़े में शामिल होने के बाद राजनाथ सिंह ने कहा-पाकिस्तान को समझना चाहिए कि आईएनएस खंडेरी के बेड़े में शामिल होने के बाद भारतीय नौसेना की क्षमता बढ़ गई है और अब हम पाकिस्तान को पहले से बड़ा झटका देने में सक्षम हैं। खंडेरी को पी-17 शिवालिक वर्ग के युद्धपोत के साथ नौसेना में शामिल किया गया। रक्षा मंत्री ने कहा कि अब 26/11 जैसी साजिश कामयाब नहीं होगी। उन्होंने कहा कि खंडेरी नाम ‘स्वॉर्ड टूथ फिश’ से प्रेरित है, जो समुद्र के तल के करीब पहुंचकर शिकार करने वाली एक घातक मछली है। खंडेरी भारतीय समुद्री सीमा की सुरक्षा करने में पूरी तरह से सक्षम है। यह पनडुब्बी पानी से किसी भी युद्धपोत को नष्ट करने की क्षमता रखती है। इससे पहले स्कॉर्पियन वर्ग की पनडुब्बी आईएनएस कलवरी थी। इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिसंबर, 2017 में नौसेना को सौंपा था। खंडेरी की खासियत :-40-45 दिनों तक समुद्र के अंदर सफर करने की क्षमता, 300 किलोमीटर दूर से दुश्मन पोत को नष्ट करने में सक्षम, 02 साल तक समुद्र में परीक्षण के दौरान खंडेरी सफल रही, 35 किलोमीटर प्रति घंटे के चाल से करती है सफर, 750 किग्रा वजन की 360 बैटरी खंडेरी में लगी हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को आईएनएस खंडेरी को नौसेना के हवाले करने के बाद जलपोत आईएनएस नीलगिरि का भी जलावतरण किया। नीलगिरि भारतीय नौसेना की सात नई ‘स्टील्थ फ्रिगेट’ में से पहली है, जो चकमा देने सहित हथियार और सेंसर जैसी प्रणालियों से लैस है। रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत आज उन राष्ट्रों के विशिष्ट समूह में शामिल है जो अपने स्वयं के विमान वाहक पोत और पनडुब्बियों का निर्माण कर रहे हैं। देश में फिलहाल 49 पोतों और पनडुब्बियों का निर्माण हो रहा है।राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पूरी दुनिया में हर दरवाजा खटखटा रहे हैं और अपना मजाक उड़वाने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में भारत के प्रगतिशील कदम को वैश्विक तौर पर समर्थन प्राप्त हो रहा है। अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में आयोजित ‘हाउडी, मोदी’ पर रक्षा मंत्री ने कहा- इस कार्यक्रम ने विश्वशक्ति के रूप में उभरते हुए भारत को दिखाया।  

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.