पंजाब: बटाला की पटाखा फैक्ट्री में धमाका, 21 की मौत 26 घायल।

राहत कार्य में मदद के लिए एनडीआरएफ (NDRF) की टीम भी मौके पर पहुंची है। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने घटना की उच्‍चस्‍तरीय जांच के आदेश दिए हैं।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : पंजाब में एक बड़ी दुर्घटना घट गई है। पंजाब का बटाला शहर बुधवार दोपहर बाद भीषण विस्‍फोट से दहल उठा। यहां एक पटाखा फैक्‍टरी में धमाका हो गया। इससे अब तक 21 लोगों की मौत हो गई है और 26 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। घायलों में सात की हालत नाजुक है। बेहद नाजुक हालत के कारण तीन लोगों को अमृतसर के अस्‍पताल रेफर किया गया है। धमाके के कारण फैक्‍टरी पूरी तरह से ध्‍वस्‍त हो गई और आसपास की इमारतों को भी नुकसान पहुंचा। घटनास्‍थल पर मलबा हटाने और राहत कार्य के दौरान भी धमाके हुए। इससे हड़कंप मच गया। राहत कार्य में मदद के लिए एनडीआरएफ (NDRF) की टीम भी मौके पर पहुंची है। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने घटना की उच्‍चस्‍तरीय जांच के आदेश दिए हैं। घटना से पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। घटनास्‍थल पर चीख-पुकार मची हुई है। सिविल अस्‍पताल जैसे शवों से पट गया है। धमाके से घटनास्थल के 150-200 मीटर के क्षेत्र में स्थित इमारतों और मकानों काे नुकसान पहुंचा है। जिस फैक्‍टरी में विस्‍फोट हुआ है उसके पास ही एक शॉपिंग मॉल भी है। इसके पास ही एक स्‍कूल भी है। मलबा हटाने और इसमें दबे लोगों को निकालने के दौरान भी हादसा स्‍थल पर धमाके हुए। इससे हड़कंप मच गया। घायलों काे सिविल अस्‍पताल में दाखिल कराया गया है। घटनास्‍थल पर पुलिस और बचाव दल लगातार राहत कार्य में जुटे हुए हैं। फैक्‍टरी पूरी तरह जमींदोज हो गई है। दूसरी ओर, मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने घटना पर गहरा दुख व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा है कि बटाला में हुए विस्‍फोट में लोगों के मारे जाने पर मुझे बहुत दुख है। यह बेहद दुखद घटना है और डीसी व एसएसपी की निगरानी में राहत कार्य चल रहा है। घटनास्‍थल पर अग्निशमन और बचाव दल राहत कार्य में जुटे हुए हैं और मलबे में दबे लोगों को निकालने में लगे हुए हैं। मारे गए लोगों में फैक्टरी मालिक तथा उसका बेटा भी शामिल हैं। मौत हो गई है। आधिकारिक रूप से हादसे में अब तक 21 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की गई है। घटनास्‍थल के पास शाॅपिंग मॉल विशाल मेगा मार्ट भी है। बताया जा रहा है कि फैक्ट्री मालिक के परिवार के पांच सदस्य भी मलबे में दबे हुए हैं। इनमें फैक्‍टरी मालिक और उसके बेटे की मौत होने की बात कही जा रही है। मौके पर बचाव और राहत कार्य जारी है। घटनास्‍थल पर डीसी सहित वरिष्‍ठ भर माैजूद हैं। एंबुलेंस तथा सिविल प्रशासन व पुलिस प्रशासन की टीमें राहत कार्य में लगी हुई हैं। धमाका इतना जबरदस्त था कि घायल लोग उछल कर कई-कई फीट दूर जाकर गिरे। प्रत्यक्षदर्शियों से पता चला है कि सिलेंडर फटने के कारण यह धमाका हुआ। धमाका से पूरा क्षेत्र गूंज उठा और लोग दहशत के मारे घरों से बाहर निकल आए। घटनास्‍थल पर चीख-पुकार मची हुई थी। यह फैक्‍टरी बटाला के हंस ली पुल के पास है। धमाका जब हुआ उस समय फैक्‍टरी में काफी संख्‍या में लोग काम कर रहे थे। मलबे के अंदर दबे लोगों को निकालने का काम देर शाम तक जारी रहा। मलबे के अंदर से 31 लोगों को निकाला गया है। देर शाम राहत कार्य में एनडीआरएफ की टीम भी जुट गई। मलबे के नीचे दबे लोगों को निकालने के लिए जेसीबी भी लगाए गए हैं। घटना की सूचना मिलने पर एंबुलेंस भी मौके पर पहुंचीं। पुलिस ने पूरे क्षेत्र को सील कर दिया है। डीसी विपुल और एसएसपी भी घटना की जानकारी मिलते ही पहुंच गए और मौके पर राहत व बचाव कार्य की निगरानी करे रहे। घटना अगर कुछ समय पहले होती तो बेहद भयानक दृश्‍य हो सकता था और मृतकों की संख्‍या इससे भी अधिक होती। जिस फैक्‍ट्री में विस्‍फोट हुआ है उसके पास ही बच्‍चों का एक स्कूल भी है। छुट्टी के समय काफी बच्चे फैक्‍ट्री के पास से होकर गुजरते थे। यह दुर्घटना काफी बड़ी तबाही बनकर उभरी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.