समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां के अवैध कब्जे पर चला बुलडोजर ।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) :समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं ।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) :समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रहीं  हैं। सांसद आजम खां के हमसफर रिजॉर्ट की दीवार पर शुक्रवार को प्रशासन ने बुलडोजर चलवा दिया। यह जौहर यूनिवर्सिटी रोड पर बना है। सिंचाई विभाग का आरोप है कि रिजॉर्ट में नाले की जमीन पर कब्जा कर लिया गया है। इस कारण बढ़कुशिया नाला बंद हो गया है। सिंचाई विभाग ने इस संबंध में उपजिलाधिकारी सदर प्रेम प्रकाश तिवारी के न्यायालय में वाद दायर किया था। तीन सप्ताह पहले उपजिलाधिकारी ने आदेश जारी किए थे कि अतिक्रमण को हटा दिया जाए, लेकिन इसके बाद भी अतिक्रमण नहीं हटाया गया। उपजिलाधिकारी प्रेम प्रकाश तिवारी, एसडीओ सिंचाई सिकंदर खान पूरी टीम के साथ पांच बुलडोजर और भारी पुलिस फोर्स के साथ हमसफर रिजॉर्ट पहुंचे। सुबह सिंचाई विभाग की टीम पुलिस फोर्स को लेकर मौके पर पहुंचीं और रिजॉर्ट के दीवार को तोड़ दिया। मौके पर कार्रवाई चल रही है। विरोध को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया। बता दें कि उप जिलाधिकारी ने तीन सप्ताह पहले उनके हमसफर रिजॉर्ट के एक हिस्से को तोड़ने के आदेश दिए थे। यह दीवार सिंचाई विभाग की एक हजार वर्ग गज भूमि पर बनी थी। इसके बाद कार्रवाई शुरू हुई और नाले की जमीन पर बनी दीवार को तोड़ दिया। कार्रवाई के दौरान जौहर यूनिवर्सिटी रोड की ओर आने वाला मार्ग भी दो घंटे बंद रहा। सिंचाई विभाग का कहना है कि 1000 वर्ग गज जमीन पर अवैध कब्जा किया गया था। एसडीएम ने बताया कि 300 मीटर की दीवार अभी तोड़ी गई है। जिला अधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि नाले पर अतिक्रमण था। उसको हटवा दिया गया है। आजम खां पर आरोप है कि अखिलेश यादव की सरकार के कार्यकाल में रिजॉर्ट के लिए उन्होंने सिंचाई विभाग के नाले की एक हजार गज जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा है। सिंचाई विभाग इस मामले में कई बार आजम खां को नोटिस भी जारी कर चुका है। उधर से कोई जवाब न मिलने पर आज कार्रवाई की जा रही है। रामपुर से सांसद और समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खां पर रामपुर प्रशासन का शिकंजा कसता जा रहा है। आजम खां को पहले रामपुर भू-माफिया घोषित किया गया। इसके बाद जौहर यूनिवर्सिटी के मुख्य द्वारा को ध्वस्त करने का आदेश जारी किया। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिह ने बताया कि हमसफर रिजॉर्ट में 1000 गज जमीन पर कब्जा किया गया है। यह जमीन पसियापुरा शुमाली से बड़कुसिया नाले की है। नाले पर कब्जे से पानी निकासी में दिक्कत हो रही है। सिचाई विभाग की ओर से अवैध कब्जा हटाने के लिए नोटिस दिया गया है। इसे नहीं हटाया गया तो बुलडोजर से तोड़ जा रहा है। रिजॉर्ट के पास ही पार्किंग के लिए भी अवैध कब्जा किया गया है। इसका मुकदमा एसडीएम की कोर्ट में चल रहा है। समाजवादी पार्टी के शासनकाल में आजम खां ने इस लग्जरी हमसफर रिजॉर्ट का निर्माण करवाया था। आजम खां के घर से तीन किलोमीटर दूर स्थित करोड़ों की लागत से बने इस रिजॉर्ट का लोकार्पण पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने किया था। प्रशासन निरंतर कार्रवाई कर रहा है। एक माह में बतौर कुलाधिपति जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जाने के 29 मुकदमे दर्ज कराए जा चुके हैं। जिससे आजम खां की मुश्किलें बढती दिखाई पड़ रही है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com