अलीगढ़: बालिका की हत्या के बाद टप्पल में तनाव बढ़ा, हाई अलर्ट पर पुलिस

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : ताला नगरी में ढाई वर्ष की बालिका की नृशंस हत्या के बाद से माहौल में तनाव बना है। लोगों में हत्या को लेकर काफी रोष है। चार आरोपितों की कल गिरफ्तारी होने के बाद भी लोगों का गुस्सा शांत नहीं हो रहा है। सोशल मीडिया पर चल रहे अभियान के तहत आज टप्पल चलो आह्वान पर जिला तथा पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर है। टप्पल में बजार बन्द है।अलीगढ़ के टप्पल में बालिका की हत्या के बाद तनाव बना हुआ है। आज सोशल मीडिया पर हुए 9 जून को टप्पल चलो आह्वान को लेकर सीमा सील की गईं हैं। जिले में बड़ी संख्या में आरएएफ व पीएसी तैनात है। पुलिस टप्पल चलो आह्वान से जुड़े लोगों को फोन कर चेता रही है। इसके साथ ही आज आरएएफ के साथ पीएसी ने भी फ्लैग मार्च किया। आज कोई टप्पल न जाए, इसके लिए पुलिस अपने स्तर से प्रयास में लगी है। शांति-व्यवस्था को कायम रखने के लिए आधा दर्जन बड़े अफसरों की ड्यूटी लगाई गई है। 2 एडीएम और 4 एसडीएम सहित 7 अफसरों को तत्काल प्रभाव से तैनात किया गया है।

टप्पल की घटना को लेकर गांवों से लेकर शहर तक गुस्सा है। देशभर में इस घटना की निंदा हो रही है। टप्पल में बच्चों ने कैंटल मार्च निकाला। इसमें बड़े भी शामिल हुए। इसके अलावा जिलेभर में अनेक स्थानों पर कैंडल जलाई गईं। ब्राह्मण विचार सेवा संस्थान अचलताल रामलीला मैदान से रोष मार्च निकालेगा। अध्यक्ष रामकुमार भारद्वाज ने कहा कि विप्र समाज के सभी संगठन इसमें बढ़चढ़कर भाग लें। संस्थान हत्यारों को फांसी पर लटकाने की मांग करेगा।एएमयू कैंपस में कैंडल जलाकर टप्पल की घटना पर रोष जाहिर किया गया। प्रशासनिक ब्लॉक पर रजिस्ट्रार ऑफिस के सामने पीएचडी में दाखिले के लिए धरना दे रहे युवक व युवतियों ने कैंडल जलाकर बच्ची को श्रद्धांजलि दी। मांग की कि इस तरह की घटनाएं रोकने के लिए सख्त कार्रवाई की जाए। कातिलों को कड़ी सजा मिले। स्थानीय नेता हिंदू-मुस्लिम की राजनीति कर मामले को सांप्रदायिक न बनाएं। मार्च में आसिफ अली, आदिल फारुकी, आकिब खुर्शीद, मिशवा, मोहम्मद फराज, सऊद आदि मौजूद रहे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com