भारतीय विमानों के लिए नहीं खुलेगा पाकिस्‍तानी एयरस्‍पेस

पाकिस्‍तान के सिविल एविएशन अथॉरिटी ने यह जानकारी दी।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : भारत के साथ लगती पाकिस्‍तान की पूर्वी सीमा पर स्‍थित एयरस्‍पेस 14 जून तक बंद रहेगा। पाकिस्‍तान के सिविल एविएशन अथॉरिटी ने यह जानकारी दी। इसकी जानकारी नागरिक उड्डयन के अधिकारी ने बुधवार को दिया। इससे पहले 30 मई के बाद इसे खोलने की घोषणा की गई थी।बता दें कि पाकिस्तान ने 26 फरवरी को इंडियन एयरफोर्स द्वारा की गई बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद अपना एयरस्पेस पूरी तरह बंद कर दिया था। भारत ने भी इसी दिन अपना एयरस्पेस पाकिस्तानी विमानों के लिए बंद किया था।

27 मार्च को पाकिस्तान ने नई दिल्ली, बैंकॉक और कुआलालंपुर को छोड़कर बाकी सभी उड़ानों के लिए अपना एयरस्पेस खोल दिया था। इससे सर्वाधिक प्रभावित यूरोप और दक्षिणपूर्व एशिया की उड़ानें हैं। एविएशन कॉरिडोर के मध्‍य में पाकिस्‍तान आता है और एयरस्‍पेस के बंद होने से सैंकड़ो कॉमर्शियल और कार्गो फ्लाइट प्रभावित हैं।एयर स्ट्राइक से पहले दिल्ली से यूरोप जाने वाली उड़ानें पाक की हवाई सीमा के ऊपर से गुजरती थीं। दिल्ली से एम्सटर्डम के बीच औसत एक फ्लाइट को 913 किमी ज्यादा दूरी तय करनी पड़ रही है। इस वजह से औसतन हर फ्लाइट्स दो घंटे ज्यादा देरी से चल रही हैं।भारत की तरफ से एयरस्पेस पर बैन लगाने पर पाकिस्तान ने बैंकॉक, कुआलालंपुर के लिए अपनी उड़ानें स्थगित कर दी थीं, जिसके चलते पाकिस्तान को रोजाना लाखों रुपयों का घाटा हो रहा है। पाकिस्तानी एयरस्पेस के बंद होने से देश की सभी एयरलाइंस कंपनियों की कुल 350 फ्लाइट्स रोजाना प्रभावित हुईं। वहीं भारत की एयर इंडिया को भी कम नहीं भुगतना पड़ रहा है। अप्रैल के अंत में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक, एयरस्पेस बंद होने के दो महीने में एयर इंडिया को 300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.