अमित शाह का दावा – 2014 में हारीं 120 सीटों में से 55 से ज्यादा सीटें जीतेंगे

शाह ने बताया कि उन्होंने देशभर से 120 ऐसी सीटों का चयन किया था, जिन पर भाजपा के जीतने की संभावनाएं थीं। लेकिन भाजपा 2014 में हार गई थी।

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ)  : भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दावा किया कि उनकी पार्टी 2014 लोकसभा चुनाव की तुलना में इस बार ज्यादा सीटें जीतने में कामयाब होगी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा को समर्थन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के चलते भाजपा 55 नई सीटें जीतेगी। भाजपा ने 2014 में 543 लोकसभा सीटोें में 283 पर जीत हासिल की थी।शाह ने बताया कि उन्होंने देशभर से 120 ऐसी सीटों का चयन किया था, जिन पर भाजपा के जीतने की संभावनाएं थीं। लेकिन भाजपा 2014 में हार गई थी। भाजपा अध्यक्ष ने कहा- हम इन 120 सीटों में से 55 से ज्यादा पर जीत हासिल करेंगे।भाजपा अध्यक्ष ने कहा, भाजपा अकेले दम पर बहुमत हासिल करेगी। बंगाल में 23 और ओडिशा में 13-15 सीटें जीतने में कामयाब होगी। 2014 में भाजपा बंगाल में दो और ओडिशा में एक सीट ही जीत पाई थी।उन्होंने कहा कि वे तटीय और पूर्व के उन राज्यों में भाजपा को मजबूत करने के लिए काम कर रहे थे, जहां भाजपा परंपरागत तौर से कमजोर रही है। वे इस योजना में सफल रहे हैं। 2014 के चुनाव की तरह क्या भाजपा इस बार भी उत्तर और पश्चिम भारत में बेहतर प्रदर्शन करने के सवाल पर शाह ने कहा, कुछ सीटें इधर-उधर जा सकती हैं लेकिन पार्टी को कुल मिलाकर बहुमत मिलेगा।

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव को लेकर मोदी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका के हमले को लेकर शाह ने कहा- वे कितनी भी कोशिश कर लें, लेकिन अपने अतीत से पीछा नहीं छुड़ा सकते। शाह ने कहा, ”राजीव गांधी या जवाहरलाल नेहरू की आलोचना क्यों नहीं हो सकती? केवल इसलिए क्योंकि वे गांधी परिवार से हैं।”उन्होंने पूछा- क्या बोफोर्स घोटाला उनके (राजीव गांधी के) समय नहीं हुआ था? क्या भोपाल गैस त्रासदी का आरोपी उनके समय नहीं भागा था? इन मुद्दों पर बहस क्यों नहीं होनी चाहिए?मोदी ने हाल ही में राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर- 1 बताया था। इसके बाद से ही कांग्रेस नेताओं ने उनपर निशाना साधना शुरू कर दिया था। शाह ने इसे कांग्रेस के नेताओं का दोहरा चरित्र बताया। उन्होंने कहा, इन नेताओं ने मोदी के लिए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया। लेकिन जैसे ही राजीव गांधी की आलोचना की गई, ये गलत हो गया।भाजपा अध्यक्ष ने राहुल गांधी के उस बयान पर भी तंज कसा, जिसमें उन्होंने मोदी को अपना बोरिया-बिस्तर बांध लेने की सलाह दी थी। शाह ने कहा, 23 मई को नतीजे आ जाने दीजिए। पता चल जाएगा कि कौन अपना बोरिया-बिस्तर बांधेगा।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com