ब्रिटैन में गिरफ्तार हुए विकिलीक्स के संस्थापक, जानिए कौन हैं जूलियन असांजे ?

विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे लंदन में इक्वाडोर दूतावास से गिरफ्तार

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को गुरुवार को ब्रिटेन में गिरफ्तार कर लिया गया। ऑस्ट्रेलिया के जूलियन असांजे ने 2012 से लंदन में इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले रखी थी। असांजे का जन्म ऑस्ट्रेलिया के टाउनविले में 3 जुलाई, 1971 को हुआ था। अपने बचपन और जवानी के दिनों में उन्होंने कुल मिलाकर 37 स्कूल अटेंड किए। 1990 के दौरान वह एक कंप्यूटर प्रोग्रामर और सॉफ्टवेयर डिवेलपर बन गए। इसके अलावा हैकिंग में भी वह माहिर थे। उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ मेलबर्न से फिजिक्स और मैथ्स में डिग्री हासिल की।2006 में असांजे ने wikileaks.org की शुरुआत की ताकि बिना ट्रेस हुए वह इंटरनेट पर एक मुखबिर के तौर पर संवेदनशील दस्तावेज पोस्ट कर सकें। 4 साल बाद स्वीडन की दो महिलाओं ने असांजे पर रेप और यौन शोषण के आरोप लगाए और उनके खिलाफ स्वीडन ने अरेस्ट वारंट जारी कर दिया। असांजे ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया।

2010 में विकिलीक्स ने बड़ी संख्या में सेना से जुड़े अमेरिकी गोपनीय दस्तावेजों को पब्लिश किया। इसके अलावा असांजे ने अफगानिस्तान और इराक युद्ध से जुड़े दस्तावेजों को भी सार्वजनिक कर दिया। इसके बाद अमेरिका में असांजे को बहिष्कृत कर दिया गया।2012 में ब्रिटेन द्वारा स्वीडन को प्रत्यपर्ति किए जाने से बचने के लिए, उन्होंने इक्वाडोर के दूतावास से शरण की गुहार लगाई और तब से लंदन में शरणार्थी के तौर पर रह रहे थे।2016 में विकिलीक्स ने डेमोक्रेट हिलरी क्लिंटन की टीम द्वारा अमेरिकी चुनाव अभियान में भेजे गए 20,000 हैक किए ईमेल सार्वजनिक कर दिए। हालांकि, स्वीडन ने 2017 में उनके खिलाफ रेप से जुड़े अपराध को हटा लिया था। इसके बाद असांजे ने इक्वाडोर की नागरिकता ले ली।2018 में उनके वकील ने दूतावास में उनके रहने की परिस्थितियों को ‘अमानवीय’ बताया। 2019 में इक्वाडोर के राष्ट्रपति लेनिन मोरेनो ने कहा कि असांजे ने अपने शरणस्थल के नियमों का उल्लंघन किया है। अब ब्रिटेन की पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है और उनकी शरण के खत्म होने का हवाला दिया है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com