अचानक 60 से ज्यादा कौओं की मौत, जानें वजह!

(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : नई दिल्ली। बिहार में बर्ड फ्लू के कारण मोर और मुर्गियों की मौत के बीच प्रदेश के विभिन्न भागों में 60 से अधिक कौओं की मौत हो गई है। बिहार के मुंगेर जिला में बर्ड फ्लू को देखते हुए 2609 मुर्गियों को नष्ट किए जाने के साथ इस जिले में करीब 45 कौओं की भी मौत हो गई है। मुंगेर जिला पशु पालन पदाधिकारी डॉ श्रवण कुमार भगत ने बताया कि 21 दिसंबर को जिले में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद से अब तक 2609 मुर्गियों को नष्ट किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि मुंगेर जिला के विभिन्न भागों में अबतक करीब 45 कौओं की मौत हो गई है।

मुजफ्फरपुर जिले के सकरा प्रखंड के चंदनपट्टी गांव में 12 कौओं मृत पाए गए। कौओं की मौत की जांच के लिए रविवार को चंदनपट्टी गांव पहुंचे मुजफ्फरपुर जिला डॉक्टर मनोज कुमार ने बताया कि मृत कौओं के सैंपल को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जाएगा। पटना जिले के बिक्रम प्रखंड स्थित एक मुर्गी फार्म में लगभग 400 मुर्गियों के मृत पाए जाने के साथ जिले में करीब 10 कौओं की भी मौत हुई है। पशु स्वास्थ्य एवं उत्पादन संस्थान की निदेशक अलका शरण ने दावा किया कि प्रदेश में कौओं की मौत बर्ड फ्लू से नहीं बल्कि ठंड लगने के कारण हुई है।

मुंगेर और पटना जिले से मृत कौओं का सैंपल जांच के लिए भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (एनआईएचएसएडी) भेजा गया है पर सैंपल के पॉजिटिव होने की कोई रिपोर्ट अब तक नहीं मिली है। बता दें कि प्रदेश की राजधानी पटना स्थित संजय गांधी जैविक उद्यान में बर्ड फ्लू के कारण मोर की मौत के बाद 25 दिसंबर से उसे बंद कर दिया गया है। संजय गांधी जैविक उद्यान में एच5एन1 वायरस के कारण छह मोर की मौत हो चुकी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com