इंदौर : चिड़ियाघर में दिखेगा येलो एनाकोंडा, रखे जायेंगे 24 प्रजातियों के अलग-अलग सांप

येलो एनाकोंडा के साथ देखते मन में सिहरन पैदा करने वालेे अलग-अलग 24 प्रजाति के सांप होंगे। इन सांपों को चैन्नई, हैदराबाद के अलावा महाराष्ट्र, उत्तराखंड और तमिलनाडु से लाया जाएगा



(एनएलएन मीडिया – न्यूज़ लाइव नाऊ) : अब दर्शक सबसे जहरीले ब्राउन किंग कोबरा के साथ दुनिया के सबसे लंबे रेटिक्यूलेटेेड पाइथन सांप को कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय में देख सकेंगे। येलो एनाकोंडा के साथ देखते मन में सिहरन पैदा करने वालेे अलग-अलग 24 प्रजाति के सांप होंगे। इन सांपों को चैन्नई, हैदराबाद के अलावा महाराष्ट्र, उत्तराखंड और तमिलनाडु से लाया जाएगा।चिड़ियाघर में 750 फीट लंबा और 72 फीट चौड़ा रेपटाइल्स हाउस का काम अंतिम चरण में है। जू प्रबंधन की मानें तो अभी उनके पास सात प्रजातियों के सांप है। बाकी सांप जनवरी से लाना शुरू होंगे। यह अपनी तरह का प्रदेश का एकमात्र स्नेक हाउस होगा, जहां सांपों को पूरी तरह से प्राकृतिक वातावरण दिया जाएगा। करीब डेढ़ करोड़ की लागत से बने इस स्नेक हाउस में 24 इनक्लोजर (पिंजरे) बनाए गए है। हर एक में एक विशेष प्रजाति के सांप को रखा जाएगा। यहां रखे गए सांपों को बेहतर वातावरण मिले इसलिए इसका टेम्प्रेचर उनकी आवश्यकता के मुताबिक रखा जाएगा। जू एजुकेशनल ऑफिसर निहार पारुलकर ने बताया कि अभी जू प्रबंधन के पास 7 प्रजाति के 18 सांप है। रेपटाइल्स हाउस का 80 फीसदी काम पूरा हो चुका है।मडरस क्रोकोडाइल बैंक चैन्नाई से येलो ऐनाकोंडा सांप लाया जाएगा। यह करीब 7 फीट का पेयर होगा। ऐनाकोंडा को भी दुनिया के सबसे बड़े सांपों में शामिल किया जाता है। हालांकि ऐनाकोंडा जहरीले नहीं होते हैं। यह भी अजगर की तरह शिकार करते हैं। इनके लिए खास इनक्लोजर बनाया गया है।हैदराबाद जू से लाया जाने वाला ब्राउन किंग कोबरा सबसे विशेले सांपों में शामिल है। यह करीब 15 फीट तक का होता है। सामान्य कोबरा से यह काफी अलग और खतरनाक होता है। यह मेंढक, छिपकली, चूहे और खरगोश जैसे छोटे स्तनधारियों को अपना शिकार बनाता है। सामान्य कोबरा की लंबाई जहां पांच फीट तक होती है यह 15 फीट तक बढ़ता है।रेटिक्यूलेटेड पाइथन सांप दुनिया के सबसे लंबे सांपों में शामिल है। साथ ही यह तीन सबसे भारी सांपों में भी शामिल है। चिड़ियाघर में व्हाइट रेटिक्यूलेटेड पाइथन लाने की तैयारी है, जिसकी लंबाई करीब 20 फीट के आसपास है। वैसे इस प्रजाति के सांप 38 फीट तक लंबे होते हैं इसलिए इसे दुनिया के सबसे लंबे सांप में शामिल किया जाता है।स्नेक हाउस में विभिन्न प्रजाति के सांपों को लाने की योजना है। इसमें अफ्रीका के सबसे जहरीले सांप ब्लैक माम्बा का नाम भी शामिल है, लेकिन इसका एन्टीडोज देश में उपलब्ध न होने के चलते ब्लैक माम्बा से पहले अन्य प्रजातियों को लाया जाएगा, क्योंकि रेपटाइल्स हाउस में सांपों की देखरेख करेंगे।यहां सांपों को प्राकृतिक वातावरण दिया जाएगा इसलिए हर इनक्लोजर की छत को इस तरह बनाया गया है कि सांप धूप सेक सके। उनके स्वास्थ्य के लिए यह आवश्यक है।इनक्लोजर के भीतर ही एक बगीचा, पानी का कुंड, रेत और मिट्टी वाला एरिया होगा। आवश्यकता पड़ने पर वे अपने शरीर का तापमान बनाए रखने के लिए पानी के कुंड में जा सके।इनक्लोजर पर ग्लास लगाया जा सकेगा, ताकि दर्शक सांपों की सभी गतिविधियों को देख सके। साथ ही सामने वाले हिस्से पर थ्रीडी पेंटिंग लगाई जाएगी, जो सांपों को प्राकृतिक वातावरण में होने का अहसास कराएगी ।  मौसम के हिसाब से ब्लोअर लगाए जाएंगे। इसके जरिए ठंडी और गर्म हवा इनक्लोजर में पहुंचाई जाएगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com